Corona: क्‍या बैंकों के कामकाज का समय घटने वाला है? उठ रही है ये मांग

कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों से बैंक कर्मचारियों में भी अपनी सुरक्षा को लेकर डर बढ़ने लगा है. उन्होंने सरकार को इस संबंध में एक ज्ञापन सौंपा है.

Corona: क्‍या बैंकों के कामकाज का समय घटने वाला है? उठ रही है ये मांग
फाइल फोटो

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों के बीच बैंक यूनियनें (Bank Union) भी अपने साथी कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं. बैंक यूनियनों ने वित्त मंत्रालय (Ministry of Finance) से बैंक कर्मचारियों की सुरक्षा के उपाय करने की मांग की है. यूनियनों ने कहा है कि बैंकों के कार्य दिवसों में कमी और शाखाओं को न्यूनतम कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति देकर कुछ प्रभावी उपाय किए जा सकते हैं.

UFBU ने दिया ज्ञापन

नौ यूनियनों के संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (UFBU) ने वित्तीय सेवा विभाग के सचिव देवाशीष पांडा को ज्ञापन दिया है. इस ज्ञापन में कहा गया है कि सभी बैंक शाखाएं और प्रतिष्ठान संक्रमण के प्रसार का संभावित ‘हॉटस्पॉट’ हैं. ऐसे में उनके लिए कुछ सुरक्षा उपाय करने की जरूरत है. इसके अलावा यूनियन ने कामकाज के घंटे या कार्यदिवस घटाने का भी सुझाव दिया है. पिछले साल भी ऐसा ही किया गया था.

वर्क फ्रॉम होम का आग्रह

UFBU ने कहा, ‘हम आपसे आग्रह करते हैं कि सभी बैंकों को शाखाओं/कार्यालयों में न्यूनतम कर्मचारियों को बुलाने का निर्देश दिया जाए. अगले चार से छह माह तक एक-तिहाई कर्मचारियों के साथ काम, घर से काम यानी वर्क फ्रॉम होम का क्रियान्वयन किया जाना चाहिए. संक्रमण से बचाव के लिए स्टाफ अधिकारियों को बारी-बारी से बुलाया जाना चाहिए.’

ये भी पढ़ें- कोरोना: महाराष्ट्र में Lockdown जैसी सख्त पाबंदियों के बाद कैसा रहा पहला दिन?

टीकाकरण की मांग

यूनियन ने कहा कि कई केंद्रों पर सभी शाखाएं खोलने के बजाय इनकी संख्या सीमित की जानी चाहिए. बैंकिंग सुविधाओं का विस्तार कुछ चुनिंदा शाखाओं तक किया जाना चाहिए. इसे अनिवार्य रूप से सभी शाखाओं को खोलने की जरूरत नहीं होगी और बैंक कर्मचारियों और ग्राहकों की संक्रमण से सुरक्षा सुनिश्चित हो सकेगी. यूनियन ने बैंककर्मियों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाए जाने की भी मांग की. कहा कि इससे बैंक कर्मियों का विश्वास बढ़ेगा. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.