Corona Virus से भारत के इस बिजनेस को लगा झटका, हो रहा 50% तक घाटा

कोरोना वायरस का असर सिर्फ चीन में ही नहीं बल्कि अब भारतीय बिजनेस पर भी पड़ने लगा है. 

Corona Virus से भारत के इस बिजनेस को लगा झटका, हो रहा 50% तक घाटा
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कोरोना वायरस का असर सिर्फ चीन में ही नहीं बल्कि अब भारतीय बिजनेस पर भी पड़ने लगा है. कोरोना वायरस के संक्रमण और मौत के मामलों को देखते हुए भारत में लोगों ने नॉन-वेज खाना छोड़ दिया है. इसकी वजह से पोल्ट्री बिजनेस अब बुरी तरह प्रभावित हो गया है. पिछली बार सार्स वायरस चिकन जैसे उत्पादों में भी फैल गया था. कोरोना वायरस भी सार्स वायरस परिवार से बताया जा रहा है. इसी वजह से अब अचानक चिकन खाने वालों में ये गिरावट देखी जा रही है. 

50% से ज्यादा हो चुका है नुकसान
जानकारों का कहना है कि जनवरी के पहले हफ्ते से लेकर फरवरी अंत तक के बीच में चिकन की मांग में आधे से ज्यादा की कमी आ गई है. इसके अलावा चिकन के दामों में 70 प्रतिशत से ज्यादा की कमी आ गई है. 


पोल्ट्री में हो रहा नुकसान

35 रुपये प्रति किलो बिक रहा है चिकन
मामले से जुड़े एक अन्य अधिकारी का बताया कि थोक मंडी में चिकन के दामों में 70 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गई है. इसकी वजह से 100 रुपये प्रति किलो में बिकने वाला चिकन अब 35 रुपये में मिल रहा है. 

उधर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए चिकन, मटन और अंडा खाते वक्त ऐहतियात बरतने को कहा है. मंत्रालय के निर्देश के अनुसार इन खाद्य पदार्थों को खाने से पहले अच्छे से पकाने की हिदायत दी गई है. हालांकि पशुपालन मंत्रालय का कहना है कि अभी तक भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण मवेशियों में नहीं फैला है. मौजूदा प्राप्त वैज्ञानिक शोध बता रहे हैं कि अभी भी चीन में ये वायरस एक से दूसरे व्यक्ति में ही फैल रहा है. लेकिन मुर्गियों और भेड़-बकरियों में इस वायरस का संक्रमण नहीं पाया गया है. मंत्रालय का कहना है कि फिलहाल चिकन खाने के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है.