close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कॉर्पोरेट टैक्स कटौती से बढ़ा निवेशकों का मनोबल, प्रमुख सूचकांकों में 2% की तेजी

देश के आर्थिक विकास को रफ्तार देने के लिए निवेश बढ़ाने के मकसद से कॉरपोरेट कर की दरों में कटौती समेत सरकार द्वारा उठाए गए हालिया कदमों से घरेलू शेयर बाजार में बीते सप्ताह कारोबारी रुझान मजबूत रहा.

कॉर्पोरेट टैक्स कटौती से बढ़ा निवेशकों का मनोबल, प्रमुख सूचकांकों में 2% की तेजी
सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह के मुकाबले दो फीसदी से ज्यादा की जोरदार तेजी दर्ज की गई.

नई दिल्ली: देश के आर्थिक विकास को रफ्तार देने के लिए निवेश बढ़ाने के मकसद से कॉरपोरेट कर की दरों में कटौती समेत सरकार द्वारा उठाए गए हालिया कदमों से घरेलू शेयर बाजार में बीते सप्ताह कारोबारी रुझान मजबूत रहा और प्रमुख शेयर सूचकाक सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह के मुकाबले दो फीसदी से ज्यादा की जोरदार तेजी दर्ज की गई. कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले 807.95 अंकों यानी 2.13 फीसदी की बढ़त के साथ 38,822.57 पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी एनएसई का प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी 238.20 अंकों यानी 2.11 फीसदी की तेजी के साथ 11,512.40 पर बंद हुआ.

बीएसई का मिड-कैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 145.92 अंकों यानी 1.02 फीसदी की तेजी के साथ 14,265.99 पर बंद हुआ जबकि स्मॉल कैप सूचकांक 127.68 अंकों यानी 0.97 फीसदी की बढ़त के साथ 13,331.93 पर बंद हुआ. पिछले सप्ताह शुक्रवार को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घरेलू कंपनियों के लिए कॉरपोरेट कर की दर घटाने का एलान किया था. सरकार के इस फैसले के बाद इस सप्ताह के पहले कारोबारी सत्र में सोमवार को बाजार में तेजी का सिलसिला जारी रहा और सेंसेक्स 1,075.41 अंकों यानी 2.83 फीसदी की बढ़त के साथ 39,090.03 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 329.20 अंकों यानी 2.92 फीसदी की तेजी के साथ 11,603.40 पर बंद हुआ.

हालांकि अगले सत्र में मंगलवार को उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा लेकिन सेंसेक्स मामूली 7.11 अंकों की बढ़त के साथ 39,097 पर बंद हुआ और निफ्टी में 12 अंकों यानी 0.10 फीसदी फिसल कर 11,588.20 पर बंद हुआ. विदेशी बाजार से मिले कमजोर संकेतों और बिकवाली के दबाव में बुधवार को सेंसेक्स 503.62 अंकों यानी 1.29 फीसदी की गिरावट के साथ 38,593.52 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 148 अंकों यानी 1.28 फीसदी की गिरावट के साथ 11,440.20 पर बंद हुआ.

 

अगले दिन गुरुवार को फिर बाजार में लिवाली लौटी और कच्चे तेल के दाम में आई गिरावट और विदेशी संकेत सकारात्मक मिलने से सेंसेक्स 396.22 अंकों यानी 1.03 फीसदी की बढ़त के साथ 38,989.74 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 133.10 अंक यानी 1.22 फीसदी चढ़कर 11,573.30 पर बंद हुआ.

हालांकि आखिरी सत्र में शुक्रवार को विदेशी बाजार से मिले कमजोर संकेतों से सेंसेक्स 167.17 अंकों यानी 0.43 फीसदी की गिरावट के साथ 38,822.57 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 58.80 अंकों यानी 0.51 फीसदी की गिरावट के साथ 11,512.40 पर बंद हुआ.