close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवासियों को दी बड़ी राहत, सस्ती हुई बिजली

15 किलोवाट तक के फिक्स्ड चार्ज में कमी की गयी है. 0 से 2 किलोवाट में फिक्स्ड चार्ज 125 रुपये प्रति महीना से घटाकर 20 रुपये प्रति महीना कर दिया गया है.

केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवासियों को दी बड़ी राहत, सस्ती हुई बिजली
(फोटो साभार@AamAadmiParty)

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में बिजली की दरों में बदलाव किया गया है. दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (DERC) ने बिजली रेट में कटौती का ऐलान किया है. जानकारी के मुताबिक, 15 किलोवाट तक के फिक्स्ड चार्ज में कमी की गयी है. 0 से 2 किलोवाट में फिक्स्ड चार्ज 125 रुपये प्रति महीना से घटाकर 20 रुपये प्रति महीना कर दिया गया है. 2 से 5 किलोवाट फिक्स्ड चार्ज 140 रुपये प्रति महीना से घटाकर 50 रुपये प्रति महीना कर दिया गया है. 5 से 15 किलोवाट 175 रुपये प्रति महीना से घटाकर 100 रुपये प्रति महीना कर दिया गया है.

हालांकि, एक लिमिट से ज्यादा बिजली का इस्तेमाल करने पर रेट में बढ़ोतरी हुई है. 1200 यूनिट प्रति महीना से ज्यादा खर्च करने वालों के लिए घरेलू बिजली के रेट 7.75 रुपये प्रति किलोवाट से बढ़ाकर 8 रुपये प्रति किलोवाट कर दिया गया है.

इस तरह 1 किलोवाट का लोड है तो 105 रुपये प्रति महीना की बचत होगी. 2 किलोवाट का लोड है तो 210 रुपये प्रति महीना की बचत होगी. 3 किलोवाट पर 270 रुपये की बचत, 4 किलोवाट पर 360 की बचत, 5 किलोवाट पर 450 की बचत, 6 किलोवाट लोड पर 450 की बचत, 7 किलोवाट पर 525 की बचत, 8 किलोवाट पर 600 की बचत, 9 किलोवाट पर 675 की बचत और 10 किलोवाट पर 755 रुपये प्रति महीने की बचत है.

मोटे तौर पर हर महीने 1200 यूनिट से कम बिजली इस्तेमाल करने वालो के लिए बिजली का बिल कम आएगा और 1200 यूनिट से ज्यादा बिजली इस्तेमाल करने वालों के लिए बिजली का बिल कुछ ज्यादा आएगा.