भारतीय मूल की उद्यमी फार्च्यून की शक्तिशाली महिला की सूची में

भारतीय मूल की एक उद्यमी को फार्च्यून पत्रिका की 10 महिला नवोन्मेषी, अग्रणी, उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाली महिला उद्योगपतियों की 2015 की सालाना सूची में शामिल किया गया है।

न्यूयार्क : भारतीय मूल की एक उद्यमी को फार्च्यून पत्रिका की 10 महिला नवोन्मेषी, अग्रणी, उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाली महिला उद्योगपतियों की 2015 की सालाना सूची में शामिल किया गया है।

पायल कडाकिया दो साल पुरानी स्टार्टअप क्लासपास की मुख्य कार्यकारी और सह-संस्थापक हैं जो उपभोक्ताओं को उनके क्षेत्र में हजारों बुटीक फिटनेस केंद्रों की जानकारी मुहैया कराता है। फार्च्यून ने एक बयान में कहा कि क्लासपास सिर्फ दो साल पुराना है लेकिन इसने अब तक अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन में जिम और स्टूडियो में 70 लाख सत्र की बुकिंग की है। कडाकिया ने कहा कि वह बैले सीखना चाहती थीं लेकिन न्यूयार्क सिटी में बैले प्रशिक्षण की जानकारी हासिल करने में नाकाम रहीं जिसके बाद उन्होंने इस कंपनी की स्थापना की।

पत्रिका में उनके हवाले से कहा गया कि उस वक्त मुझे लगा कि ज्यादातर लोगों को अपनी रचि और शौक से जुड़ने में परेशानी होती होगी। फार्च्यून ने कहा कि कडाकिया के विचार को फिटनेस के प्रति दीवानगी का फायदा मिला। इस सूची में ब्रिट प्लस की संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी ब्रिट मोरीन, बिजनेस टेलेंट समूह की सह-संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी जोडी मिलर और माड्यूमेटल की अध्यक्ष क्रिस्टीना लोमास्ने शामिल हैं।