Zee Rozgar Samachar

EPFO ने 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्याज अंशधारकों के खातों में डालना शुरू किया

अधिकारी ने आगे बताया कि श्रम मंत्रालय ने 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत ब्याज देने का निर्देश पहले ही ईपीएफओ को भेज दिया था और निकाय ने पिछले वित्त वर्ष के लिए खाताधारकों के खातों में ब्याज जमा करना शुरू कर दिया है. 

EPFO ने 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्याज अंशधारकों के खातों में डालना शुरू किया
फाइल फोटो

नई दिल्लीः सेवानिवृत्ति कोष का प्रबंध करने वाले निकाय ईपीएफओ ने बृहस्पतिवार को छह करोड़ से अधिक अंशधारकों को 2019-20 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) पर 8.5 प्रतिशत की दर से ब्याज का भुगतान शुरू कर दिया. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के ज्यादातर सदस्य 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्याज दर के साथ अपने अद्यतन ईपीएफ खातों को देख सकेंगे.

EPFO पर 8.5 फीसदी ब्याज दर पर गंगवार की प्रतिक्रिया 
अधिकारी ने आगे बताया कि श्रम मंत्रालय ने 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत ब्याज देने का निर्देश पहले ही ईपीएफओ को भेज दिया था और निकाय ने पिछले वित्त वर्ष के लिए खाताधारकों के खातों में ब्याज जमा करना शुरू कर दिया है. श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा, ‘‘हमने कहा था कि 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत की दर से ब्याज देने की हम कोशिश करेंगे. 

ये भी पढ़ें-Vistara के कर्मचारियों की वेतन कटौती मार्च तक जारी रहेगी

गंगवार ने कहा, हमने 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत का ब्याज देने के लिए एक अधिसूचना जारी की है. हमने अंशधारकों के खातों में ब्याज की उक्त दर को जमा करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.’’ उन्होंने कहा कि जो सदस्य 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं, उन्हें 8.5 प्रतिशत ब्याज (2019-20 के लिए) मिलेगा.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.