close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

EXCLUSIVE: कश्मीर में अब दौड़ेगी मेट्रो, 2020 में शुरू होगा काम

श्रीनगर में 25 किलोमीटर लंबा मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट होगा, जो 2 चरणों में बनेगा. कॉरिडोर-1 और कॉरिडोर-2 नाम से दो हिस्सों में श्रीनगर मेट्रो को बांटा गया है. एक कॉरिडोर में 12 स्टेशन बनेंगे. यानि दोनों कॉरिडोर मिलाकर कुल 24 स्टेशनों के साथ मेट्रो प्रोजेक्ट बनकर तैयार होगा.

EXCLUSIVE: कश्मीर में अब दौड़ेगी मेट्रो, 2020 में शुरू होगा काम

नई दिल्ली/श्रीनगर: आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में बदलाव की तैयारी बहुत तेजी से हो रही है. अब कश्मीर में भी मेट्रो का सपना साकार होगा और यह दिल्ली-मुम्बई जैसे महानगरों में शामिल होगा, जहां मेट्रो दौड़ेगी. प्रशासन श्रीनगर में मेट्रो पर काम कर रहा है. मेट्रो का डीपीआर (डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट) तैयार हो चुका है और वर्ष 2020 से श्रीनगर मेट्रो का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा. श्रीनगर मेट्रो कश्मीर की लाइफ लाइन के तौर पर काम करेगी. 

श्रीनगर में 25 किलोमीटर लंबा मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट होगा, जो 2 चरणों में बनेगा. कॉरिडोर-1 और कॉरिडोर-2 नाम से दो हिस्सों में श्रीनगर मेट्रो को बांटा गया है. एक कॉरिडोर में 12 स्टेशन बनेंगे. यानि दोनों कॉरिडोर मिलाकर कुल 24 स्टेशनों के साथ मेट्रो प्रोजेक्ट बनकर तैयार होगा. इस मेट्रो प्रोजेक्ट में लगभग 5 हजार करोड़ रुपये का खर्च आएगा. मेट्रो मैन ई श्रीधरन को श्रीनगर मेट्रो प्रोजेक्ट का हेड बनाया गया है. 

श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर शाहिद चौधरी ने Zee News से बातचीत में कहा कि हम भविष्य का श्रीनगर तैयार कर रहे हैं. आने वाले दिनों में श्रीनगर की आबादी बढ़ेगी, जिसके लिए अब मेट्रो का जरूरत है. हम 2024 तक मेट्रो ट्रेन का परिचालन श्रीनगर में शुरू कर देंगे. इस मेट्रो प्रोजेक्ट में प्रति किलोमीटर 25 युवाओं को नौकरी मिलेगी. बहुत जल्द बिडिंग की प्रकिया शुरू होगी. 

आपको बता दें कि श्रीनगर का यह मेट्रो प्रोजेक्ट पूरा एलिवेटेड (Elevated) होगा. टोकन और स्मार्ट कार्ड का प्रयोग किया जाएगा. यहां 3 डिब्बों वाली मेट्रो सबसे पहले शुरू होगी. एक डिब्बे में लगभग 250 लोग एकसाथ यात्रा कर पाएंगे. यानी एक मेट्रो ट्रेन में 750 लोग एक साथ यात्रा कर सकते हैं. गर्मियों में श्रीनगर मेट्रो 17 घंटे चलेंगी तो सर्दियों में ये मेट्रो 14 घंटे चलेंगी. सभी स्टेशन के बाहर से मिनी फीडर बस भी चलेगी. लगभग 35 मिनी फीडर बस सेवा श्रीनगर में चलेंगी. 

श्रीनगर मेट्रो की सुरक्षा व्यवस्था पर भी खास ध्यान रहेगा. प्रत्येक मेट्रो स्टेशन पर CCTV, बैग स्कैनर, Bomb Detection Equipment, Wireless Sets, Sniffer Dogs उपलब्ध रहेंगे. आइये इस मेट्रो के रूट के बारे में जानते हैं.

कॉरिडोर-1: (HMT जंक्शन टू इंदिरानगर- 12.5KM)
HMT Junction- Parimpora- Bus Stand- Qamarwari- Gazarzoo- Rathpora- Batmaloo- Secretariat- Lal Chowk- Munshi Bagh- Sonwar- Indiranagar. (12 Stations)

कॉरिडोर-2: (ओस्मानाबाद टू हजूरी बाग- 12.5 KM)
Osmanabad- Hazratbal Crossing- Soura- Skims- Nalbal Bridge- Mill Stop- Hawal Chowk- Jama Masjid- Khaniyar- Nowpora- Munshi Bagh- Hazoori Bagh (12 stations )

कुल मिलाकर देखा जाए तो ये कश्मीर के बदलते तस्वीर की कहानी है. 2044 तक श्रीनगर की जनसंख्या लगभग 37 लाख 50 हजार हो जाएगी, तो आने वाले समय में ट्रैफिक एक बड़ी समस्या श्रीनगर के लिए हो सकती है. इसीलिए श्रीनगर में मेट्रो फ्यूचर प्लानिंग की एक नजीर है.