close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MSME सेक्टर से जुड़े लोगों से मिलेंगी वित्त मंत्री, समस्याओं पर होगी चर्चा

भारतीय अर्थव्यवस्था में पिछली कुछ तिमाही से आ रही गिरावट को रोकने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस सप्ताह कई बैठक करेंगी. सबसे पहली बैठक मंगलवार को वित्त मंत्री सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) से जुड़े लोगों से करेंगी.

MSME सेक्टर से जुड़े लोगों से मिलेंगी वित्त मंत्री, समस्याओं पर होगी चर्चा

नई दिल्ली : भारतीय अर्थव्यवस्था में पिछली कुछ तिमाही से आ रही गिरावट को रोकने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस सप्ताह कई बैठक करेंगी. सबसे पहली बैठक मंगलवार को वित्त मंत्री सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) से जुड़े लोगों से करेंगी. इस दौरान वह एमएसएमई सेक्टर से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा भी करेंगी. इस दौरान यूके सिन्हा कमेटी की तरफ से पेश की गई रिपोर्ट पर बात होगी.

5000 करोड़ का स्ट्रेस्ड एसेट फंड की सलाह दी
आपको बता दें यूके सिन्हा कमेटी ने जून में वित्त मंत्रालय को एक रिपोर्ट सब्मिट की थी. इस रिपोर्ट में 100 प्रतिशत निवेश की अनुशंसा की गई थी. एमएसएमई सेक्टर के लिए रिपोर्ट में 5000 करोड़ का स्ट्रेस्ड एसेट फंड की भी सलाह दी गई है. एमएसएमई एक्ट 2006 में बदलाव के साथ ही रिपोर्ट में यह भी दिया गया है कि स्मॉल इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया (SIDBI) किस तरह एमएसएमई को सपोर्ट कर सकता है.

वीसी फाइनेंसिंग, स्माल एंटरप्राइज फैसिलिटेशन, क्लस्टर डेवलोपमेन्ट 2.0, नॉन कोलेटरल लोन की लिमिट 20 लाख तक करने की भी सलाह दी गई है. एमएसएमई मिनिस्ट्री को MSME के लिए नोडल मिनिस्ट्री बनाने की सलाह भी दी गई है.

(रिपोर्ट : दानिश आनंद)