close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

6 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंचा सोना, अभी और महंगा होने की आशंका

MCX पर सोमवार को सुबह 10.51 बजे सोने के अक्टूबर अनुबंध में 525 रुपये यानी 1.35 फीसदी की तेजी के साथ 39,290 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था

6 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंचा सोना, अभी और महंगा होने की आशंका
फाइल फोटो.

मुंबई: अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव गहराने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में फिर सोने और चांदी में सोमवार को जोरदार तेजी आई. विदेशी बाजार से मिले मजबूत संकेतों से घरेलू वायदा बाजार एमसीएक्स पर सोना 39,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के मनोवैज्ञानिक स्तर को तोड़ते हुए एक बार फिर नई उंचाई पर चला गया है. चांदी के भाव में भी तकरीबन डेढ़ फीसदी की तेजी आई है. देश के सबसे बड़े वायदा बाजार प्लेटफॉर्म मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज यानी एमसीएक्स पर सोमवार को सुबह 10.51 बजे सोने के अक्टूबर अनुबंध में 525 रुपये यानी 1.35 फीसदी की तेजी के साथ 39,290 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 39,300 रुपये प्रति 10 ग्राम तक उछला जोकि अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है. बाजार जानकारों के मुताबिक, कीमत में और उछाल आएगा क्योंकि घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अनिश्चितता का माहौल है.

वहीं, चांदी के सितंबर महीने के अनुबंध में 659 रुपये यानी 1.48 फीसदी की तेजी के साथ 45,261 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले चांदी का भाव 45,278 रुपये प्रति किलो तक उछला. उधर, अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर सोने के दिसंबर अनुबंध में 14.35 डॉलर यानी 0.93 फीसदी की तेजी के साथ 1,551.95 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले सोने का भाव कॉमेक्स पर 1,564.95 डॉलर प्रति औंस तक उछला. कॉमेक्स पर सोने का भाव फिर एक बार छह साल बाद की एक नई उंचाई पर है. सोने का भाव कॉमेक्स पर सितंबर 2011 में सबसे ऊंचे स्तर 1,911.60 डॉलर प्रति औंस पर चला गया था.

कॉमेक्स पर चांदी के दिसंबर अनुबंध में 1.18 फीसदी की तेजी के साथ 17.76 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 17.90 डॉलर प्रति औंस तक उछला. अमेरिका और चीन के बीच नए आयात शुल्क लगाने की घोषणाओं को लेकर ट्रेड वार फिर गहरा गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फिर चीन से आयातित 550 अरब डॉलर की वस्तुओं पर पांच फीसदी अतिरिक्त आयात शुल्क लगाने की चेतावनी दी है. इससे पहले चीन ने अमेरिका से आयातित 75 अरब डॉलर की वस्तुओं पर एक सितंबर और 15 दिसंबर से अतिरिक्त आयात शुल्क लगाने की घोषणा की थी.