close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पवन हंस में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी केंद्र सरकार

पवन हंस में रणनीतिक ब्रिकी को आगे बढ़ाते हुए सरकार ने आज कहा कि वह इस हेलीकाप्टर सेवा कंपनी में अपनी सारी 51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी और प्रबंध नियंत्रण स्थानांतरित करेगी। संयुक्त उद्यम पवन हंस में सार्वजनिक क्षेत्र की ओएनजीसी की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

पवन हंस में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी केंद्र सरकार

नई दिल्ली : पवन हंस में रणनीतिक ब्रिकी को आगे बढ़ाते हुए सरकार ने आज कहा कि वह इस हेलीकाप्टर सेवा कंपनी में अपनी सारी 51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी और प्रबंध नियंत्रण स्थानांतरित करेगी। संयुक्त उद्यम पवन हंस में सार्वजनिक क्षेत्र की ओएनजीसी की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

सरकार ने कंपनी में प्रस्तावित निवेश में सौदा सलाहकार के रूप में काम करने की इच्छुक फर्मों से आवेदन मांगे हैं। इस बारे में जारी सार्वजनिक सूचना के अनुसार, ‘भारत सरकार पवन हंस लिमिटेड में अपनी सारी 51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचना चाहती है। यह ब्रिकी रणनीतिक निवेश के साथ साथ प्रबंध नियंत्रण के स्थानांतरण के रूप में किया जाएगा।’ 

गौरतलब है कि सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष के लिए 56,500 करोड़ रुपये का विनिवेश लक्ष्य रखा है जिसमें से वह अब तक 24,000 करोड़ रुपये ही जुटा पाई है।