लंदन में 'उबर' को बचाने के लिए 4 लाख से ज्यादा हस्ताक्षर, 30 सितंबर को खत्म हो रहा है लाइसेंस

उबर को बड़ा झटका देते हुये शुक्रवार (22 सितंबर) को लंदन के यातायात नियामक ने घोषणा की थी कि वह नागरिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये टैक्सी कंपनी उबर के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करेगा.

लंदन में 'उबर' को बचाने के लिए 4 लाख से ज्यादा हस्ताक्षर, 30 सितंबर को खत्म हो रहा है लाइसेंस
उबर को बड़ा झटका देते हुये शुक्रवार (22 सितंबर) को लंदन के यातायात नियामक ने घोषणा की थी कि वह नागरिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये टैक्सी कंपनी उबर के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करेगा. (Reuters/23 Sep, 2017)

लंदन: ब्रिटेन की राजधानी लंदन में अमेरिकी कैब सेवा प्रदाता कंपनी उबर के परिचालन को लेकर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. उबर को बचाने के लिये चार लाख से अधिक लंदनवासियों ने एक निवेदन पत्र पर हस्ताक्षर किये हैं. यह अभियान उस फैसले के बाद शुरू हुआ, जिसमें उबर के परिचालन लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करने का निर्णय लिया गया. उबर को बड़ा झटका देते हुये शुक्रवार (22 सितंबर) को लंदन के यातायात नियामक ने घोषणा की थी कि वह नागरिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये टैक्सी कंपनी उबर के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करेगा. उबर इस फैसले को चुनौती देने की तैयारी कर रहा है. इसी के साथ चार्ज डॉट ओआरजी पर "सेव योर उबर इन लंदन" शीर्षक से डाली गयी याचिका पर 4,60,000 से ज्यादा ने हस्ताक्षर किये.

आग्रह पत्र में कहा गया, "अगर यह फैसला बना रहा तो 40,000 से ज्यादा चालक काम से बाहर हो जायेंगे. साथ ही लंदन के लाखों लोगों को सुविधाजनक और सस्ती परिवहन सेवा से वंचित होना पड़ेगा. यह निर्णय बड़ी संख्या में ईमानदार और परिश्रमी चालकों को प्रभावित करेगा." शहर के मेयर सादिक खान की अध्यक्षता वाले ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) ने घोषणा की थी कि वह उबर के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करेगा क्योंकि वह "उचित" ऑपरेटर नहीं है. उबर का परिचालन लाइसेंस 30 सितंबर को समाप्त हो रहा है.

UBER को लगा बड़ा झटका, इस देश में लगेगी सर्विस पर रोक

इससे पहले लंदन के परिवहन नियामक ने एप के जरिये कैब सेवा बुकिंग सुविधा देने वाली अमेरिकी कंपनी उबर का लाइसेंस नवीनीकरण नहीं करने की घोषणा की है. नवीनीकरण से इनकार करते हुये नियामक ने कहा है कि कंपनी शहर में परिचालन करने के लिये उपयुक्त नहीं है. निर्णय के पीछे गंभीर अपराधों में सूचना देने में कंपनी के रवैये का हवाला दिया गया है. ब्रिटेन की राजधानी लंदन में उबर का परिचालन लाइसेंस 30 सितंबर को खत्म हो रहा है. ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) ने कहा कि उसे विश्वास नहीं है कि लंदन की सड़कों पर उबर उपयुक्त परिचालनकर्ता है. हमने यह निष्कर्ष निकाला है कि उबर लंदन लिमिटेड एक निजी किराया ऑपरेटर लाइसेंस रखने के योग्य नहीं है.

नियामक ने अपने बयान में कहा, "कई मुद्दों में उबर के दृष्टिकोण और आचरण में कमी का प्रदर्शन होता है, जिनमें सार्वजनिक सुरक्षा निहितार्थ हैं. गंभीर अपराधों की सूचना देने और चिकित्सा प्रमाण पत्र प्राप्त करने में उबर का रवैया चिंता का मुख्य विषय है.’’ वहीं, इस मामले में उबर का कहना है कि वह इस फैसले को चुनौती देगी. कंपनी ने कहा कि 35 लाख लंदनवासी हमारे ऐप का उपयोग करते हैं और 40,000 ड्राइवर अपनी जीविका चलाने के लिये हम पर निर्भर हैं, जो इस निर्णय से प्रभावित होगा.