close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जल्दी करें: अब तक नहीं चुने पसंदीदा टीवी चैनल, तो इस तरह आसानी से बनाएं मंथली प्लान

Cable TV: भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) के नए नियम लागू होने में सिर्फ चार दिन बचे हैं. इसलिए जो चैनल आपको देखने हैं उनका मंथली प्लान तैयार कर लें

जल्दी करें: अब तक नहीं चुने पसंदीदा टीवी चैनल, तो इस तरह आसानी से बनाएं मंथली प्लान
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: अगर आपने अभी तक अपने पसंदीदा टीवी चैनलों का चयन नहीं किया है तो जल्दी करें, वरना एक फरवरी से आप अपने पसंदीदा धारावाहिक या फिल्में नहीं देख पाएंगे. वैसे चैनल का चुनाव करने के लिए आपके पास दो तरीके हैं. पहला, या तो आप अपने केबल ऑरपरेटर से संपर्क कर लें. दूसरा, या फिर ट्राई ने चैनल चुनने के लिए जो लिंक शुरू किया है, वहां से आप मंथली प्लान तैयार कर लें. TRAI के मोबाइल एप्लिकेशन की मदद से दर्शक अपने पैकेज को आसानी से तैयार कर सकते हैं. इसकी आसान प्रक्रिया हम आपको बता रहे हैं.

इस वेबसाइट पर करना होगा क्लिक
ट्राई ने वेबसाइट तैयार की है. http://channel.trai.gov.in/. ये मोबाइल पर भी खुलती है. जैसे ही आप इसे शुरू करेंगे, सबसे पहले आपको नाम भरना होगा. इसके बाद राज्य बताना होगा. फिर भाषा और बाद में चैनल की क्वालिटी चुननी होगी. मसलन, SD या HD. कोई भी विकल्प अनिवार्य नहीं है, आप चाहें तो विकल्प को SKIP कर आगे बढ़ सकते हैं. अंत में कैटेगरी के हिसाब से चैनल की लिस्ट चुन सकते हैं.

अगर आप ज़ी ग्रुप के चैनल को चुनना चाहते हैं तो ब्रॉडकास्टर में आखिरी नाम ज़ी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड का आता है. इसमें कुल 43 चैनल (SD) हैं. इसके अलावा 16 HD चैनल भी हैं.ज़ी फैमिली पैक 45 रुपये का है, जिसमें 24 चैनल (SD) आते हैं. ज़ी एंटरटेनमेंट ने दर्शकों को ध्यान में रखते हुए अलग-अलग पैक तैयार किया है. ज़ी ऑल इन वन पैक 60 रुपये का है. फैमिली पैक (HD) 60 रुपये का है और एचडी ऑल इन वन पैक 85 रुपये का है.

फिर चुनने होंगे चैनल
एक बार जब आप अपनी भाषा और क्वालिटी की मांग बता देंगे, तब आपके सामने चैनल्स की लिस्ट खुलेगी. यहां आप चैनल की संख्या चुन सकते हैं. चैनल्स की संख्या आप अपने मुताबिक घटा या बढ़ा सकते हैं. 

टीवी देखना होगा महंगा
ट्राई का कहना है कि 1 फरवरी से टीवी देखना सस्ता हो जाएगा, लेकिन एक्सपर्ट का मानना है कि इससे टीवी देखना और महंगा होगा. दरअसल, इसका आसन तर्क है, ट्राई जिन चैनल्स की बात कर रहा है वो फ्री टू एयर चैनल हैं, जिनका दर्शक वर्ग बहुत कम है. जबकि आमतौर पर देखे जाने वाले चैनल सारे पेड हैं. यहां तक कि HD चैनल तो काफी महंगे हैं. हर ब्रॉडकास्टर ने अपने चैनलों का अलग से बुके तैयार किया है. इनमें पे और HD चैनल भी शामिल हैं. स्टार प्लस, सोनी, जी, एंड टीवी, कलर्स आदि चैनल पेड कैटेगिरी में आते हैं. 

154 रुपए तो देने ही होंगे
यहां एक बात और गौर करने की है, आपको टीवी देखने के लिए 154 रुपए तो चुकाने ही होंगे. 154 रुपए में 130 रुपए नेटवर्क कैपेसिटी फीस है और 24 रुपए GST. इसमें आपको 100 FTA यानी फ्री टू एयर चैनल मिलेंगे, जिसमें किसी भी ब्रॉडकास्टर के पेड चैनल शामिल नहीं होंगे.