PNB ग्राहकों के लिए बुरी खबर, इस तारीख के बाद बेकार हो जाएगी आपकी 'चेक बुक'

अगर आप पंजाब नेशनल बैंक केे ग्राहक हैं और चेक से भुगतान करते हैं तो यह खबर आपके लिए है.

PNB ग्राहकों के लिए बुरी खबर, इस तारीख के बाद बेकार हो जाएगी आपकी 'चेक बुक'
नॉन सीटीएस कम्‍प्‍लायंस चेक जनवरी 2019 के बाद नहीं चलेगा. (फाइल फोटो)
Play

नई दिल्‍ली: अगर आप पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के ग्राहक हैं और चेक से भुगतान करते हैं तो यह खबर आपके लिए है. जो पीएनबी ग्राहक अब भी नॉन सीटीएस कम्‍प्‍लायंस चेक से भुगतान कर रहे हैं, वे जनवरी 2019 के बाद इन चेकों का इस्‍तेमाल नहीं कर पाएंगे. बैंक ऐसे चेकों को डिसऑर्नर कर देगा. नए सीटीसी कम्‍प्‍लायंट चेक भरने में आसान और सहज हैं. रिजर्व बैंक ने सभी बैंकों को निर्देश जारी किया है कि वह नॉन सीटीएस चेक को खत्‍म करें.

सीटीएस से एक बैंक से दूसरे बैंक नहीं ले जाना पड़ता चेक
आरबीआई के निर्देश के बाद पीएनबी ने अपने ग्राहकों से बिना सीटीएस वाले चेक वापस कर उसकी जगह नया चेक लेने को कहा है. बैंक जनवरी से बिना सीएसटी वाला चेक स्वीकार नहीं करेगा. सीटीएस यानी ‘चैक ट्रंकेशन सिस्टम’ में चेक को भुनाने का काम जल्दी होता है. इस व्यवस्था में चेक के समाशोधन के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक में ले जाने की जरूरत नहीं होती. इसके समाशोधन के लिए केवल इलेक्ट्रानिक प्रति पेश की जाती है.

जनवरी 2019 के बाद काम नहीं करेंगे चेक
पीएनबी ने एक अधिसूचना में कहा कि बिना सीटीएस सुविधा वाला चेक एक जनवरी 2019 से समाशोधन के लिये स्वीकार्य नहीं किया जाएगा. बैंक ने ग्राहकों से बिना सीटीएस सुविधा वाला चेक की जगह दूसरा चेक लेने को कहा है. इस व्यवस्था में भौतिक रूप से चेक को लाने-ले जाने का खर्चा बचता है और समाशोधन में लगने वाला समय कम होता है. इससे ग्राहकों को बेहतर सेवा मिलती है. आरबीआई ने बैंकों को सीटीएस सुविधा वाला चेक ही जारी करने की सलाह दी है.

डिजिटल लेन-देन में नंबर 1 निकला पीएनबी
केंद्र सरकार की एक रिपोर्ट में पीएनबी की रैंकिंग डिजिटल लेन-देन के मामले में सबसे बेहतर सरकारी बैंक के रूप में की गई है. पीएनबी द्वारा शनिवार को जारी बयान के मुताबिक, वित्त मंत्रालय द्वारा डिजिटल लेन-देन में 31 जुलाई 2018 तक बैंकिंग क्षेत्र के प्रदर्शन को लेकर तैयार रिपोर्ट में पीएनबी को सबसे बेहतर सरकारी बैंक बताया गया है. वित्तीय सेवा विभाग (डीएफएस) के निष्कर्षों के मुताबिक पीएनबी में कुल डिजिटल लेन-देन के महज 0.83 फीसदी लेन-देन में तकनीकी रूप से किसी प्रकार की परेशानी होती है. डिजिटल प्रदर्शन के आधार पर इस रिपोर्ट में देश के सभी बैंकों में सभी श्रेणियों में पीएनबी को छठा सबसे बेहतर बैंक बताया गया है. बयान में कहा गया, 'डिजिटल इंडिया पहल को लेकर बैंक पूरी तरह से प्रतिबद्ध है. बैंक को सरकार द्वारा 'गुड' की रेटिंग दी गई है तथा '71' स्कोर दिया गया है, जो कि प्रदर्शन के आधार पर सबसे उच्च श्रेणी है.'