IMF की रिपोर्ट में दावा, चीन की विकास दर घटती जाएगी भारत करेगा इतनी रफ्तार से विकास

IMF ने कहा है कि 2018 में भारत की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही है जबकि इस दौरान चीन की वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत रही.

IMF की रिपोर्ट में दावा, चीन की विकास दर घटती जाएगी भारत करेगा इतनी रफ्तार से विकास
आईएमएफ का अनुमान है कि 2019 में चीन की वृद्धि दर 6.3 प्रतिशत रहेगी. (फाइल)

वाशिंगटन: अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) का अनुमान है कि 2019 में भारत की वृद्धि दर 7.3 प्रतिशत रहेगी, जो 2020 में बढ़कर 7.5 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी. आईएमएफ ने कहा कि निवेश में सुधार और उपभोग बढ़ने से भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था बना रहेगा. आईएमएफ और विश्वबैंक की सालाना ग्रीष्मकालीन बैठक से पहले जारी विश्व आर्थिक परिदृश्य में आईएमएफ ने कहा है कि 2018 में भारत की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही है जबकि इस दौरान चीन की वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत रही. 

आईएमएफ का अनुमान है कि 2019 में चीन की वृद्धि दर 6.3 प्रतिशत और 2020 में 6.1 प्रतिशत रहेगी. रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019 में भारत की वृद्धि दर रफ्तार पकड़ेगी और 7.3 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी, जबकि 2020 में यह 7.5 प्रतिशत रहेगी. इसमें कहा गया है कि राष्ट्रीय खाता सांख्यिकी में हाल में किए गए संशोधन में कुछ नरम रुख दिखता है. इसी के मद्देनजर अक्टूबर की तुलना में 2019 के लिए भारत की वृद्धि दर के अनुमान में 0.1 प्रतिशत और 2020 के लिए 0.2 प्रतिशत की कमी की गई है. 

रुपये-रुपये के लिए मोहताज हुआ पाकिस्तान, छिनने वाली हैं 10 लाख लोगों की नौकरियां

रिपोर्ट में कहा गया है कि मध्यम अवधि में भारत की वृद्धि दर 7.75 प्रतिशत पर आकर टिकेगी. विश्व आर्थिक परिदृश्य में कहा गया है कि संरचनात्मक और वित्तीय क्षेत्र के सुधारों के क्रियान्वयन के साथ सार्वजनिक लोन में कटौती के जरिये ही देश की आर्थिक वृद्धि की संभावनाओं को संरक्षित किया जा सकता है.