स्विस खाते में जमा थे 196 करोड़ रुपए, वार्षिक कमाई 1.7 लाख बताई; आयकर विभाग ने लिया ये एक्शन

मुंबई में एक 86 साल की बुजुर्ग महिला ने अपनी वार्षिक कमाई 1.7 लाख रुपये दिखाई थी. जबकि उनके स्विस बैंक खाते में 196 करोड़ रुपये मिले हैं. फिर आयकर विभाग ने कड़ा एक्शन लिया.    

स्विस खाते में जमा थे 196 करोड़ रुपए, वार्षिक कमाई 1.7 लाख बताई; आयकर विभाग ने लिया ये एक्शन
फाइल फोटो

नई दिल्लीः अब विदेशों में भारतीयों के लिए काला धन छुपाना बड़ा मुश्किल होने जा रहा है. ऐसे लोग जो स्विस बैंक समेत दुनिया के अन्य देशों में स्थित बैंकों के खातों में बड़ी रकम जमा करते हैं और इसकी जानकारी विभाग से छुपाते रहे हैं, इनके सामने ऐसा करना बड़ी चुनौती साबित होने जा रहा है. 

ITAT के फैसले से मिली पॉवर
हमारी सहयोगी वेबसाइट zeebiz.com के अनुसार, इनकम टैक्‍स अपीलेट ट्रिब्यूनल (ITAT) की मुंबई बेंच द्वारा बुधवार को दिए गए फैसले से आयकर विभाग को बड़ी पॉवर मिल गई है. रेणु थडानी नाम की एक 86 साल की महिला ने अपनी वार्षिक कमाई एक लाख 70 हजार रुपये दिखाई थी. थडानी के स्विस बैंक खाते में 196 करोड़ रुपये मिले हैं. 

इनकम टैक्स अपीलेट ट्रिब्यूनल ने रेणु थडानी की अपील को खारिज करते हुए एचएसबीसी प्राइवेट बैंक, जिनेवा में खाते की पुष्टि की. ट्रिब्यूनल ने पाया कि यह एक अधिकार क्षेत्र है. जिसमें निवासियों की तुलना में कंपनियों की संख्या दोगुनी है. जिनमें से अधिकांश केवल कागजों पर है. यह भरोसा करना भोलापन होगा कि गोपनीयता, उदार कर लाभों के कारण बेनामी मुख्य गतिविधियों के बजाए ये कंपनियां  कोर गतिविधियों के लिए यहां होगीं.

ट्रिब्यूनल ने आगे कहा कि खाता धारक का लेन-देन के साथ गहरा नाता है और यह समझ से बाहर है कि महिला को इस कंपनी के बारे में कोई जानकारी नहीं है. जबकि एक बड़ी राशि का खुद को लाभार्थी बनाया हुआ है. आपको बता दें कि आयकर विभाग द्वारा जारी नोटिस के जवाब में महिला ने विदेशी बैंक में खाता होने से इनकार कर दिया था और जांच दोबारा करने पर आपत्ति जताई थी.

300 से ज्यादा ऐसे मामले
आयकर विभाग ने बताया कि इस तरह के 300 से अधिक मामले लंबिंत पड़े हैं. अब इस फैसले के बाद विभाग को काफी ज्यादा शक्तियां मिल गई हैं. आने वाले दिनों में विभाग इन मामलों में ज्यादा सख्ती से कार्य करेगा. 

यह भी पढ़ेंः कोरोना: Lockdown के बीच HDFC बैंक को हुआ 19.6% का लाभ

ये भी देखें---