मोदी सरकार के लिए एक और गुड न्यूज, 2018-19 में 7.3 % रहेगी विकास दर
Advertisement
trendingNow1487107

मोदी सरकार के लिए एक और गुड न्यूज, 2018-19 में 7.3 % रहेगी विकास दर

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय की तरफ से साल 2018-19 में भारतीय अर्थव्यवस्था के 7.2 प्रतिशत पर रहने की उम्मीद जताने के बाद मोदी सरकार के लिए एक ओर अच्छी खबर आई है.

मोदी सरकार के लिए एक और गुड न्यूज, 2018-19 में 7.3 % रहेगी विकास दर

नई दिल्ली : केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय की तरफ से साल 2018-19 में भारतीय अर्थव्यवस्था के 7.2 प्रतिशत पर रहने की उम्मीद जताने के बाद मोदी सरकार के लिए एक ओर अच्छी खबर आई है. अब वर्ल्ड बैंक की तरफ से उम्मीद जताई गई है कि भारत साल 2018-19 में दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश बना रहेगा. मंगलवार को जारी रिपोर्ट में वर्ल्ड बैंक ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 7.3 फीसदी की दर से बढ़ेगा. वहीं चीन का विकास दर 6.3 प्रतिशत ही रहने की उम्मीद है.

भारत की बेहतर तस्वीर दिखाई गई
'ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स: डार्कनिंग स्काइज' रिपोर्ट में कहा गया है मौजूदा वित्तीय वर्ष में अधिकांश विश्व की अर्थव्यवस्थाओं की रफ्तार धीमी रहेगी. हालांकि, इस रिपोर्ट में भारत और दक्षिण एशिया क्षेत्र के लिए बेहतर तस्वीर दिखाई गई है. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू करने के मोदी सरकार के फैसले पर विश्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है, 'भारत में जीएसटी की हालिया शुरुआत और नोटबंदी के कदम ने अनौपचारिक क्षेत्रों को औपचारिक क्षेत्र में बदलने के लिए प्रोत्साहित किया है.'

अर्थव्यवस्था में फिर आ रही तेजी
विश्व बैंक के अनुसार, भारत की जीडीपी 2018-19 में 7.3 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी. यह आंकड़ा अगले दो वित्तीय वर्षों में 7.5 प्रतिशत तक पहुंच सकता है. जीडीपी में यह बढ़त बढ़ी हुई खपत और निवेश का परिणाम है. नोटबंदी और जीएसटी के कारण अस्थायी मंदी के बाद अर्थव्यवस्था में फिर से तेजी आ रही है. विश्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2017 में भारत की अर्थव्यवस्था में जीएसटी और नोटबंदी के कारण गिरावट आई थी. 2017 में चीन की विकास दर 6.9 प्रतिशत रही, जबकि भारत की जीडीपी वृद्धि 6.7 प्रतिशत थी. वर्ल्ड बैंक प्रॉस्पेक्ट्स के ग्रुप डायरेक्टर अहान कोसे ने कहा कि भारत का ग्रोथ आउटलुक अभी भी मजबूत है. भारत अब भी सबसे तेजी से बढ़ती बड़ी अर्थव्यवस्था है.

Trending news