खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने से नवंबर में खुदरा महंगाई 17 माह के न्यूनतम स्तर पर

हरी सब्जियों, अंडा एवं दाल जैसी खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने से नवंबर में खुदरा मुद्रास्फीति घटकर 2.33 प्रतिशत रह गई, जो पिछले डेढ़ साल का न्यूनतम स्तर है. 

खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने से नवंबर में खुदरा महंगाई 17 माह के न्यूनतम स्तर पर
उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर में 2.33 प्रतिशत रही...(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: हरी सब्जियों, अंडा एवं दाल जैसी खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने से नवंबर में खुदरा मुद्रास्फीति घटकर 2.33 प्रतिशत रह गई, जो पिछले डेढ़ साल का न्यूनतम स्तर है. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर में 2.33 प्रतिशत रही. इससे पिछले महीने अक्टूबर के संशोधित आंकड़ों में यह 3.38 प्रतिशत पर पहुंच गई. हालांकि, पहले जारी आंकड़ों में यह 3.31 प्रतिशत थी. एक साल पहले, नवंबर, 2017 में खुदरा मुद्रास्फीति 4.88 प्रतिशत रही थी.

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (एमओएसपीआई) के आंकड़ों के मुताबिक खुदरा मुद्रास्फीति का इससे पहले का न्यूनतम आंकड़ा जून, 2017 में रहा था. उस महीने में खुदरा मुद्रास्फीति 1.46 फीसदी रही थी. इस साल नवंबर में खाने-पीने के सामानों की कीमतों में 2.61 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई. वहीं सब्जियों के दाम में भारी गिरावट देखने को मिली. आलोच्य महीने में इनमें 15.59 फीसदी गिरावट दर्ज की गई. 

दालों और दलहन वस्तुओं की मुद्रास्फीति पिछले महीने 9.22 प्रतिशत रही. वहीं अंडे की कीमतों में 3.92 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई. अक्टूबर में अंडे की मुद्रास्फीति 2.21 फीसदी रही थी. ईंधन और बिजली की महंगाई दर 8.55 प्रतिशत से घटकर 7.39 फीसदी रही. हालांकि, आलोच्य महीने में मांस और मछली की कीमतों में 4.99 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई. इस साल अक्टूबर में यह आंकड़ा 3.02 प्रतिशत रहा था. वहीं फलों की महंगाई दर में भी कमी दर्ज की गई है. यह अक्टूबर के 0.35 प्रतिशत की तुलना में घटकर 0.21 फीसदी पर रहा.