चौथी तिमाही में इंफोसिस का शुद्ध लाभ 3,603 करोड़ रुपये

देश की दूसरी सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस का जनवरी-मार्च तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ मामूली यानी 0.2 प्रतिशत बढ़कर 3,603 करोड़ रुपये रहा है. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में में यह 3,597 करोड़ रुपये था.

चौथी तिमाही में इंफोसिस का शुद्ध लाभ 3,603 करोड़ रुपये
देश की दूसरी सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस का जनवरी-मार्च तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ मामूली यानी 0.2 प्रतिशत बढ़कर 3,603 करोड़ रुपये रहा है.

बेंगलुरू: देश की दूसरी सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस का जनवरी-मार्च तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ मामूली यानी 0.2 प्रतिशत बढ़कर 3,603 करोड़ रुपये रहा है. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में में यह 3,597 करोड़ रुपये था.

बंबई शेयर बाजार को दी जानकारी में कंपनी ने बताया कि वह लाभांश या शेयर पुनखर्रीद के रास्ते से अपने शेयरधारकों के बीच 13,000 करोड़ रुपये तक का भुगतान भी करेगी. कंपनी ने स्वतंत्र निदेशक रवि वेंकटेसन को सहायक चेयरमैन भी नामित किया है.

समीक्षावधि में कंपनी की आय 3.4 प्रतिशत बढ़कर 17,120 करोड़ रुपये रही है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 16,550 करोड़ रुपये थी. कंपनी ने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में उसे अपनी आय में डॉलर में 6.1-8.1 प्रतिशत और स्थिर मुद्रा में 6.5-8.5 प्रतिशत वृद्धि करने की उम्मीद है.

पिछली तिमाही की तुलना में इस तिमाही में इंफोसिस का शुद्ध लाभ 2.8 प्रतिशत और आय 0.9 प्रतिशत गिरी है. इंफोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्का ने कहा कि अप्रत्याशित चुनौतियों से निपटने और आम तौर पर नरम रहने वाली तिमाही में पैदा हुए व्यवधानों से हमारे पूरे प्रदर्शन पर फर्क पड़ा है.