close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रेलवे के बाद IRCTC फ्लाइट वालों को फ्री में देगी यह सुविधा, आपके लिए है जरूरी

इंडियन रेलवे की सहयोगी कंपनी इंडियन रेलवे एंड कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (IRCTC) ने पिछले दिनों रेल यात्रियों को कई तरह की सुविधाएं मुहैया कराई हैं.

रेलवे के बाद IRCTC फ्लाइट वालों को फ्री में देगी यह सुविधा, आपके लिए है जरूरी

नई दिल्ली : इंडियन रेलवे की सहयोगी कंपनी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (IRCTC) ने पिछले दिनों रेल यात्रियों को कई तरह की सुविधाएं मुहैया कराई हैं. अब आईआरसीटीसी ने हवाई यात्रियों के लिए भी एक बड़ी और अहम सुविधा शुरू की है. इस सुविधा के लिए कंपनी की तरफ से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाएगा. अब कंपनी अपनी वेबसाइट से घरेलू और इंटरनेशनल हवाई टिकट बुक कराने वाले यात्रियों को 50 लाख रुपये का बीमा फ्री देगी. बीमे में एकतरफा और वापसी दोनों यात्राओं को कवर किया जाएगा. बीमे का प्रीमियम का खर्च ग्राहकों पर नहीं पड़ेगा बल्कि इसका खर्च आईआरसीटीसी की तरफ से खुद उठाया जाएगा. इसके लिए एक प्राइवेट बीमा कंपनी एग्रीमेंट किया गया है.

50 लाख रुपये तक के बीमा की सुविधा
रेलवे की खानपान और पर्यटन शाखा आईआरसीटीसी के प्रबंध निदेशक एमपी मल्ल ने बताया कि यात्रियों को 50 लाख रुपये तक का यह यात्रा बीमा बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के उपलब्ध कराया जाएगा. बीमे का प्रीमियम आईआरसीटीसी की तरफ से अपने कमीशन से ही दिया जाएगा. आपको बता दें आईआरसीटीसी रेल टिकट के साथ ही हवाई टिकट भी बुक करती है. बड़ी मात्रा में आईआरसीटीसी से रेलवे टिकट बुक किए जाते हैं. मौजूदा समय में आईआरसीटीसी की वेबसाइट से करीब 6 हजार फ्लाइट टिकट रोजाना बुक किए जाते हैं.

डोमेस्टिक व इंटरनेशनल फ्लाइट में मिलेगी सुविधा
अब आईआरसीटीसी की तरफ से मुफ्त इंश्योरेंस की पेशकश किए जाने के बाद इसमें बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. मल्ल ने बताया कि कंपनी की तरफ से दी जाने वाली फ्री बीमा सर्विस सभी श्रेणियों के यात्रियों को घरेलू व इंटरनेशनल, दोनों तरह की फ्लाइट के टिकट पर उपलब्ध कराई जाएगी. इसके लिए आईआरसीटीसी ने भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस को अपना पार्टनर बनाया है. अभी आईआरसीटीसी से रेल टिकट बुक कराने पर यात्रियों को बीमा की सुविधा दी जाती है, इसके लिए उसे 10 लाख रुपये तक के बीमा पर 49 पैसे ज्यादा देने होते हैं.