close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रिटायरमेंट के बाद शिक्षा के क्षेत्र में वापस जा सकते हैं जैक मा

इंटरनेट के जरिये वस्तु और सेवाओं का बाजार उपलब्ध कराने वाली चीन की सबसे बड़ी कंपनी अलीबाबा के सह संस्थापक जैक मा ने कहा है कि वह सोमवार को 54 साल की उम्र में काम से अवकाश ले लेंगे.

रिटायरमेंट के बाद शिक्षा के क्षेत्र में वापस जा सकते हैं जैक मा

बीजिंग : इंटरनेट के जरिये वस्तु और सेवाओं का बाजार उपलब्ध कराने वाली चीन की सबसे बड़ी कंपनी अलीबाबा के सह संस्थापक जैक मा ने कहा है कि वह सोमवार को 54 साल की उम्र में काम से अवकाश ले लेंगे. उनकी योजना उसके बाद परमार्थ के कार्य शुरू करने की है. उन्होंने न्यूयार्क टाइम्स से बातचीत में कहा कि अलीबाबा से उनकी सेवानिवृत्ति उनके लिए ‘एक नए युग की शुरुआत होगी.’ उन्होंने बताया कि अब वह अपना समय और धन ‘शिक्षा के क्षेत्र में लगाएंगे.’

अलीबाबा की ओर से आधिकारिक बयान नहीं आया
न्यूयार्क टाइम्स पर चीन में पाबंदी है. ऐसे में इस अखबार को अपने रिटायरमेंट की योजना बताने की जैक मा की पहल आश्चर्यचकित करने वाली है. अलीबाबा की ओर से अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. अमेरिकी अखबार से उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि मैं एक दिन, या जल्दी ही मैं फिर अध्यापन के क्षेत्र में लौटूंगा.’उन्हानें कहा कि वह अब अपने न्यास के जरिए परोपकार के काम शुरू करने की योजना भी बना रहे हैं.

नौकरी छोड़कर शुरू किया था कारोबार
चीन के पूर्वी झेरजयांग प्रांप के हांगझोऊ नगर के एक गरीब परिवार में पैदा जैक मा ने पढ़ाई लिखाई करके अंग्रेजी के अध्यापक बने. 1990 के दशक में इंटरनेट क्रांति से परिचय होने पर उन्होंने नौकरी छोड़ कर अपना कारोबार शुरू करने की ठानी. जैक मा ने अपने दोस्तों को राजी कर उनसे 60,000 डॉलर की राशि जुटा कर ऑनलाइन खरीद-बिक्री की सुविधा देने वाला इंटरनेट बाजार मंच अलीबाबा चालू किया. वह 2013 में कंपनी के सीईओ बनाए गए.

जैक मा की कंपनी की हैसियत करीब 421 अरब डॉलर
शेयर बाजार के हिसाब से जैक मा की कंपनी की हैसियत करीब 421 अरब डॉलर (30,312 अरब रुपये) की है. कंपनी की हैसियत के साथ उनकी भी हैसियत बढ़ती गई और वह दुनिया के सबसे अमीर लोगों में गिने जाते हैं. उन्होंने एक बार अमेरिकी टीवी समाचार चैनल सीएनएन से बातचीत में कहा था, ‘जब मैंने पहली बार इंटरनेट का इस्तेमाल किया और पहली बार कंप्यूटर का की-बोर्ड दबाया तो मुझे लगा, ‘हां यह कुछ ऐसी चीज है जो निश्चित रूप से दुनिया को बदल देगी, चीन को बदलेगी.'

अलीबाबा आज डिजिटल मीडिया, मनोरंजन, क्लाउड कंप्यूटिंग और तमाम प्रकार के कारोबार में अपना जाल पसार चुकी है. इस साल जून को समाप्त तिमाही में उनका कारोबार 61 प्रतिशत की दर से बढ़ा. पत्रिका फोर्ब्स के अनुसार जैक मा चीन के सबसे धनी व्यक्ति है. उनकी संपत्ति 38.6 अरब डॉलर के आसपास है.