8वीं में तीन बार फेल हुआ था यह शख्स, अब 3 हजार अरब रुपए का मालिक

इस साल के सेल इवेंट में अलीबाबा ने 1.65 लाख करोड़ रुपए (25.3 अरब डॉलर) की बिक्री की है. आपको बता दें कि चीन में 11 नवंबर को सिंगल्स डे के तौर पर मनाया जाता है. यहां पर इसका ट्रेंड 1990 से शुरू हुआ, जो युवाओं के बीच काफी मशहूर है.

8वीं में तीन बार फेल हुआ था यह शख्स, अब 3 हजार अरब रुपए का मालिक
चीन में 11 नवंबर को सिंगल्स डे के तौर पर मनाया जाता है. (file pic)

नई दिल्ली : चीन की ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने सिंगल डे सेल में अपने पिछले सभी रिकॉर्ड को तोड़ दिया और एक दिन में अब तक की सबसे ज्यादा सेल करने का रिकॉर्ड बनाया. कंपनी की तरफ से दी गई जानकारी में बताया गया कि अलीबाबा ने 11 नवंबर को 1 लाख 65 हजार करोड़ रुपए (10 अरब डॉलर) के सामान की बिक्री की. चीन की इस नामी ई-कॉमर्स कंपनी ने शुरुआती 3 मिनट में ही 1.5 अरब डॉलर यानी करीब 9.8 हजार करोड़ रुपए की बिक्री की थी, जबकि पिछले साल इतनी ही सेल 6 मिनट 3 सेकंड में हुई थी.

इस साल के सेल इवेंट में अलीबाबा ने 1.65 लाख करोड़ रुपए (25.3 अरब डॉलर) की बिक्री की है. आपको बता दें कि चीन में 11 नवंबर को सिंगल्स डे के तौर पर मनाया जाता है. यहां पर इसका ट्रेंड 1990 से शुरू हुआ, जो युवाओं के बीच काफी मशहूर है. पहले कंपनी का यह रिकॉर्ड 1 लाख करोड़ रुपए का था. इसी दिन अमेजन ने एक दिन में सबसे ज्यादा अब तक 6 हजार करोड़ की बिक्री की है. इतनी बड़ी बिक्री की रकम सुनकर आपके दिमाग में सवाल आ रहा होगा कि आखिर इस कंपनी का मालिक कौन है और उसकी क्या बैकग्राउंड रही होगी.

यह भी पढ़ें : 25 खरब रुपए के मालिक जैक मा करेंगे फिल्मों में काम, ये है वजह

कौन हैं जैक मा
53 वर्षीय जैक मा एशिया के चौथे सबसे अमीर आदमी हैं. फोर्ब्स 2017 की सूची के अनुसार उनकी कुल संपत्ति करीब 39.3 बिलियन डॉलर है. जैक मा की जीवनी के अनुसार उन्होंने 1999 में हांगझू के अपने अपार्टमेंट में अलीबाबा कंपनी की शुरुआत की थी. शुरुआत में लोग उन्हें शक की नजरों से देखते थे.

कैसे आया विचार
खबरों के अनुसार अलीबाबा के मालिक जैक मा 1994 में जब अमेरिका गए तो वह वहां पर इंटरनेट देखकर आश्चर्यचकित हो गए. वहां पर उनके मन में विचार आया, जिसे उन्होंने चीन लौटते ही इंप्लीमेंट किया और 'चाइना पेज' लॉन्च किया. यह चीन की पहली ऑनलाइन डायरेक्टरी थी. इसके बाद वह देशवासियों के बीच 'मिस्टर इंटरनेट' के नाम से फेमस हो गए. हालांकि यह पेज ज्यादा दिन तक नहीं चल सका.

यह भी पढ़ें : सिर्फ 3 मिनट में ही 10 हजार करोड़ की कमाई, इस कंपनी ने बनाया रिकॉर्ड

1999 में बनाई अलीबाबा
इसके बाद जैक मा ने 21 फरवरी 1999 में अलीबाबा की शुरुआत की. इस कंपनी को उन्होंने अपने 17 दोस्तों के साथ शुरू किया था. आपको जानकर हैरानी होगी जब उन्होंने इस कंपनी की शुरुआत की थी तो वह 30 नौकरियों के लिए रिजेक्ट किए जा चुके थे. कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें फंड की जरूरत पड़ी तो उन्हें सबसे पहले जापान की सॉफ्टबैंक ने कर्ज दिया था.

ये हैं बड़ी कंपनियां
अलीबाबा ग्रुप की बड़ी कंपनियों में Alibaba.com, Taobao, Alibaba Cloud, AliExpress, Yahoo! China, Alibaba Pictures, South China Morning Post, UCWeb, और Lazada प्रमुख हैं.

पांचवीं में दो बार फेल हुए
जैक की पढ़ने- लिखने में रुचि नहीं थी, वह पांचवीं में दो बार फेल हुए और आठवीं में 3 बार फेल हुए. जैक मा के पास किसी तरह का कंप्यूटर साइंस का बैकग्राउंड नहीं था. उनका बचपन इतनी गरीबी में गुजरा कि उन्होंने कभी भी कंप्यूटर का इस्तेमाल तक नहीं किया था. 1980 में वह स्कूल टीचर की नौकरी करने लगे. इस नौकरी में संतोष नहीं होने के बाद उन्होंने अनुवाद करने वाली कंपनी खोली. इंटरनेट से प्रभावित होकर जैक ने अलीबाबा की शुरुआत की.

अलीबाबा का कारोबार
चीन की कंपनी अलीबाबा की मार्केट वैल्यू फिलहाल 3 हजार अरब रुपए से भी ज्यादा है. ई-कॉमर्स के साथ फार्मा, आईटी, फाइनेंस, टूरिज्म और मीडिया एंड एंटरटेनमेंट में बिजनेस करने वाली कंपनी अलीबाबा का मुख्य बिजनेस ई-कॉमर्स से जुड़ा हुआ है. अलीबाबा ग्रुप में कुल करीब 37 कंपनियां हैं. भारत की पेटीएम समेत दुनिया की कई बड़ी कंपनियों में अलीबाबा का शेयर है.