LPG Price Hike: रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में अगले हफ्ते फिर हो सकती है बढ़ोतरी! जानिए सरकार की नई योजना
X

LPG Price Hike: रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में अगले हफ्ते फिर हो सकती है बढ़ोतरी! जानिए सरकार की नई योजना

LPG Price Hike: रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें अगले हफ्ते फिर से बढ़ाई जा सकती हैं. LPG की बिक्री पर नुकसान बढ़कर 100 रुपये प्रति सिलेंडर हो गया है, जिसके चलते यह फैसला लिया जा सकता है.

LPG Price Hike: रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में अगले हफ्ते फिर हो सकती है बढ़ोतरी! जानिए सरकार की नई योजना

नई दिल्ली: LPG Price Hike: महंगाई की चौतरफा मार के बीच एक बाद फिर आम जनता को झटका लग सकता है. रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें (LPG Price Hike) अगले हफ्ते दोबारा बढ़ाई जा सकती हैं. दरअसल, LPG की बिक्री पर नुकसान बढ़कर 100 रुपये प्रति सिलेंडर हो गया है, जिसके चलते यह फैसला लिया जा सकता है.

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, सूत्रों का कहना है कि कीमतों में बढ़ोतरी, जिसमें इजाफा कितना होगा, यह सरकार की मंजूरी पर निर्भर करता है. अगर इस पर सहमति बनती है तो सभी कैटेगरीज में बढ़ोतरी होगी. इनमें घरों में इस्तेमाल होने वाली सब्सिडी वाली गैस, नॉन-सब्सिडी वाली गैस और इंडस्ट्रीयल साइज्ड गैस शामिल हैं.

6 अक्टूबर को बढ़ी थी कीमतें

गौरतलब है कि इससे पहले 6 अक्टूबर को LPG के दाम में 15 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी की गई थी. इससे पहले जुलाई के बाद रसोई गैस कीमतों में कुल बढ़ोतरी 90 रुपये प्रति सिलेंडर पर पहुंच गई थी. पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, सरकारी तेल मार्केटिंग कंपनियों को विक्रेता कीमत को लागत के साथ जोड़ने की इजाजत नहीं दी गई है और अंतर को कम करने के लिए किसी सरकारी सब्सिडी को अभी मंजूरी नहीं मिली है.

ये भी पढ़ें- SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खबर! अब ATM से रकम निकासी पर बदल गए नियम, जानिए नए रूल

क्यों बढ़ रही है लगातार कीमतें?

दरअसल, LPG की बिक्री पर लगातार घाटा बढ़ रहा है. इस समय ये घाटा बढ़कर 100 रुपये प्रति सिलेंडर से ज्यादा हो गया है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में ऊर्जा की कीमतों में इजाफा होता ही जा रहा है.कच्छ तेल भी सालों की रिकॉर्ड ऊंचाई पर है. सऊदी में LPG की कीमतें 60 फीसदी से ज्यादा के उछाल के साथ इस महीने 800 डॉलर प्रति टन पर पहुंच गईं.

सरकार को करनी होगी भरपाई

इस समय अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड ऑयल 85.42 डॉलर प्रति बैरल पर ट्रेड कर रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक, एक सूत्र ने बताया कि LPG अभी भी नियंत्रित कमोडिटी है. तो, तकनीकी आधार पर, सरकार रिटेल विक्रेता कीमतों को रेगुलेट कर सकती है. लेकिन, जब वे ऐसा करती हैं, तो तेल कंपनियों को अंडर-रिकवरी या नुकसान के लिए भरपाई करनी होगी, जो उन्हें कीमत से कम दरों पर एलपीजी को बेचने से होती है.

ये भी पढ़ें- Petrol-Diesel Price पर सबसे बड़ा अपडेट! 150 रुपये तक हो सकती है कीमत

सरकार ने किया था सब्सिडी खत्म 

सरकार ने पिछले साल LPG पर सब्सिडी को खत्म कर दिया था. लेकिन पेट्रोल और डीजल में जहां कीमतों में भी हर दिन बढ़ोतरी हो रही है. हालांकि, सरकार ने एलपीजी दाम के डिरेगुलेशन को लेकर कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया है. पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, एक सूत्र ने कहा कि अब तक ऐसा कोई संकेत नहीं है कि कंपनसेशन या सब्सिडी को वापस लाया जाएगा. क्योंकि लागत और रिटेल कीमत के बीच अंतर बढ़ गया है.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Trending news