1 December से हो रहे ये 5 बड़े बदलाव, फटाफट जान लें वरना होगा नुकसान

Reserve Bank of India ने अपने नियमों में बदलाव किया है. वहीं Railways की तरफ से भी कुछ नई जानकारी आ रही है. 1 December से LPG की कीमतों में भी बदलाव के संकेत हैं. जानिए कल से होने वाले बदलाव.

1 December से हो रहे ये 5 बड़े बदलाव, फटाफट जान लें वरना होगा नुकसान

नई दिल्ली: 1 दिसंबर यानी कल से हमारे आर्थिक मामलों से जुड़े कई नियम बदल रहे हैं. आपकी जेब से जुड़े इन मामलों को ध्यान रखना बेहद जरूरी है. वरना आपको नुकसान भी हो सकता है. आइए बताते हैं क्या हैं नए बदलाव...

1. RTGS 24 घंटे
हमारी सहयोगी वेबसाइट zeebiz.com के मुताबिक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) ने अपनी अक्टूबर क्रेडिट पॉलिसी में RTGS को 24 घंटे शुरू करने का ऐलान किया है. एक बैंक से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के कई सारे विकल्प मौजूद है. इनमे सबसे ज्यादा पॉपुलर RTGS, NEFT और IMPS है. बता दें, पिछले साल दिसंबर में ही NEFT को भी 24 घंटे के लिए शुरू किया गया था. RBI की गाइडलाइन के मुताबिक RTGS सर्विस सुबह 8 बजे से शाम 7:55 बजे तक ही मिलती है.  

2. LPG Cylinder price
LPG गैस सिलेंडर की कीमत हर महीने की पहली तारीख को अपडेट होती है. कीमतों में इजाफा भी हो सकता है और राहत भी मिल सकती है. ऐसे में 1 नवंबर को सिलेंडर की कीमतों में बदलाव हो सकता है.

3. प्रीमियम में कर सकेंगे बदलाव (Premium Change)
अब 5 साल के बाद बीमाधारक प्रीमियम की रकम को 50 फीसदी तक घटा सकता है. यानि वह आधी किस्त के साथ भी पॉलिसी जारी रख पाएगा.

VIDEO

ये भी पढ़ें- Bank Interest: ये सरकारी बैंक देते हैं Saving Accounts पर सबसे ज्यादा ब्याज

4. चलेंगी नई ट्रेन (New trains will be scheduled)
1 दिसंबर से चलेंगी नई ट्रेनें, यात्रियों को मिलेगी सुविधा: कोरोना काल के बाद रेलवे अपनी सेवाओं को सामान्य करने में जुटा है. स्पेशल ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जा रही है. अब 1 दिसंबर से भी कुछ ट्रेनों का परिचालन शुरू होने जा रहा है.

5. अब किस्त नहीं देने पर बीमा पॉलिसी नहीं होगी बंद
कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से अधिकतर लोगों की जॉब चली गई है. जिसकी वजह से वे बीमा पॉलिसी की किस्त समय पर नहीं भर पा रहे हैं. वहीं, कई बार ऐसा भी होता है कि खर्च ज्यादा आने की वजह से लोग पॉलिसी सही समय पर नहीं भर पाते हैं. ऐसे में उनकी पॉलिसी बंद हो जाती है. इससे उनका जमा हुआ पैसा भी फंस जाता है. इसलिए बीमा कंपनियों ने इसमें बदलाव कर दिया है. जिसके मुताबिक अब 5 सालों के बाद बीमाधारक प्रीमियम की राशि को 50% तक घटा सकता है. यानी कि वह आधी किस्त के साथ ही पॉलिसी जारी रख सकता है. 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.