महिंद्रा ने अमेरिकी कार बाजार में सांगयोंग को उतारने की योजना टाली

कंपनी निकट भविष्य में सांगयोंग मोटर कंपनी की ब्रांड वाली कारों को भारतीय बाजार में भी उतारने की इच्छुक नहीं है. 

महिंद्रा ने अमेरिकी कार बाजार में सांगयोंग को उतारने की योजना टाली

जयपुर: घरेलू मोटर वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने सांगयोंग ब्रांड को अमेरिकी बाजार में उतारने की योजना को फिलहाल टाल दिया है. कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी. कंपनी निकट भविष्य में सांगयोंग मोटर कंपनी की ब्रांड वाली कारों को भारतीय बाजार में भी उतारने की इच्छुक नहीं है. 

एमएंडएम के प्रबंध निदेशक पवन गोयनका ने एसयूवी एल्ट्रॉस जी4 को भारतीय बाजार में उतारे जाने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम से इतर कहा, "अगर हम अमेरिकी बाजार में सांगयोंग को उतारते तो संभवत: किसी और नाम से यह करते. वास्तव में हमने फिलहाल इसे (अमेरिकी बाजार में उतारे जाने को) टाल दिया है." 

वह दक्षिण कोरिया स्थित अपनी इस अनुषंगी कंपनी के नाम में बदलाव की योजना से जुड़े सवाल का जवाब दे रहे थे. महिंद्रा एंड महिंद्रा ने 2011 में सांगयोंग का अधिग्रहण किया था. गोयनका ने कहा कि इस मुद्दे पर फिलहाल कोई अंतिम निर्णय नहीं हो सका है. कुछ लोग जहां नाम में बदलाव के पक्ष में हैं, वहीं अन्य इसका विरोध कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, "हमारे वैश्विक वितरक इसके खिलाफ हैं. अब तक हमने इस संबंध में कोई फैसला नहीं किया है क्योंकि यह मामला फिलहाल हमारी प्राथमिकताओं में शामिल नहीं है."

पिछले साल अमेरिका के डेट्रॉयट में कंपनी के एक नये संयंत्र के उद्घाटन के मौके पर महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनन्द महिंद्रा ने इस बात के संकेत दिये थे कि कंपनी सांगयोंग के नाम से अमेरिकी बाजार में उतर सकती है. हालांकि, कंपनी ने बाद में अमेरिकी बाजार में महिंद्रा ब्रांड से ही रौक्सर मॉडल को उतारा. 

सांगयोंग को भारत में लाने के बारे में पूछे जाने पर गोयनका ने कहा, "निकट से लेकर मध्यम अवधि तक हम सांगयोंग के यहां आने की संभावना नहीं देख रहे हैं." उन्होंने कहा कि घरेलू बाजार में महिंद्रा के अच्छी तरह स्थापित नाम होने के कारण इसकी कोई जरूरत नहीं है.