close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अगर कट गया है आपका भी चालान तो घबराने की जरूरत नहीं, आपके पास ये हैं विकल्प

Traffic Challan : चालान मौके पर भरना जरूरी नहीं है. पुलिस आप पर इसके लिए दबाव भी नहीं बना सकती. आपको चालान कोर्ट जाकर भरना होगा.

अगर कट गया है आपका भी चालान तो घबराने की जरूरत नहीं, आपके पास ये हैं विकल्प

नई दिल्ली: नया मोटर व्हीकल एक्ट (Motor vehicle Act 2019) लागू होने के बाद देशभर से भारी भरकम चालान के मामले सामने आ रहे हैं. इसके चलते लोग थोड़ा सतर्क हुए है, तो काफी हद तक भ्रम की स्थिति भी है. खैर, अगर आपका भी चालान कट गया और आपको लगता है कि पुलिस ने गलत चालान (Traffic Challan) काटा है या फिर जुर्माने की राशि ज्यादा है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. सबसे पहले तो ये जान लीजिए कि आपका चालान वहीं मौके पर भरने की जरूरत नहीं. पुलिस आप पर इसके लिए दबाव भी नहीं बना सकती. आपको चालान कोर्ट जाकर भरना होगा.

जब आप कोर्ट जाएंगे, वहां जाकर आपको चालान भरना ही होगा, वो भी ज़रूरी नहीं. कोर्ट जाने पर आपको ट्रैफिक पुलिस का एक रजिस्टर मिलेगा. जिसमें आपको चालान नंबर और गाड़ी नंबर के साथ दो विकल्प मिलेंगे. अपनी ग़लती कबूलने या फिर न कबूलने के. अगर आप ग़लती कबूल लेते है तो आपको जुर्माना भरना होगा. अगर नहीं , तो फिर समरी ट्रायल चलेगा और अदालती कार्रवाई में आपके द्वारा ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन साबित करने के लिए पुलिस को गवाह पेश करना होगा.अगर उपयुक्त गवाह की गवाही नहीं होती तो फिर आपको चालान नही भरना होगा.

अगर आपकी ग़लती साबित भी हो जाती है, तो फिर आपकी ओर से कोर्ट से गुहार लगने पर और आगे न ग़लती दोहराने की हिदायत के साथ कोर्ट आपका जुर्माना कम भी हो सकता है. अहम बात ये भी है कि अगर किसी वजह से ख़ुद  कोर्ट जाने की स्थिति में नहीं है तो भी मोटर व्हीकल एक्ट के सेक्शन 208 के मुताबिक  आप अपने वकील के जरिए भी चालान की राशि जमा करा सकते है.

मोटर व्हीकल एक्ट के सेक्शन 206 में ज़िक्र है कि किन दस्तावेजों के होने पर पुलिस आपकी गाड़ी ज़ब्त कर सकती है या नही. मसलन ड्राइविंग लाइसेंस , गाड़ी का रजिस्ट्रेशन न होने पर , कर्मिशयल वाहन का परमिट न होने या फिर नाबालिग द्वारा गाड़ी चलाने पर पुलिस आपकी गाड़ी जब्त हो सकती है. लेकिन ऐसा नही हो सकता कि आपने रेडलाइट जंप की और पुलिस आपकी गाड़ी जब्त कर लेगी. खैर, गाड़ी जब्त होने की सूरत में आप ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी या फिर कोर्ट में ओरिजिनल दस्तावेज दिखाकर अपना वाहन वापस ले सकते है.

ट्रैफिक पुलिस लोगों को इस बात की जानकारी भी दे रहे हैं कि कैसे अपने चालान को भरें. चालान कटने के बाद लोग पुलिस से मिन्नतें भी कर रहे गाड़ी छोड़ने के लिए, लेकिन पुलिस एक्शन में है और किसी भी सूरत में गाड़ी नहीं छोड़ रहे हैं. लोगों का यही मानना है कि चालान तो भरना ही है, लेकिन जानकारी के अभाव में परेशान जरूर हैं. एकाएक हुए इस परिवर्तन से लोग परेशान जरूर हैं, लेकिन उनको धीरे धीरे अपने गलतियों का एहसास जरूर हो रहा है. अपनी आदतों में वो सुधार भी ला रहे हैं और नियमों का पालन करने की नसीहत भी ले रहे हैं.