कोरोना काल में ये ब्रिटिश कंपनी देगी 2 हजार भारतीयों को नौकरी, सरकार ने किया स्वागत

एक तरफ जहां देश में चीनी उत्पादों के बहिष्कार और चीन के खिलाफ लोगों का जमकर गुस्सा निकल रहा है, वहीं दूसरी एक ब्रिटिश मल्टीनेशनल कंपनी ने 2 हजार भारतीयों को अपने यहां पर नौकरी देने का ऐलान किया है.

कोरोना काल में ये ब्रिटिश कंपनी देगी 2 हजार भारतीयों को नौकरी, सरकार ने किया स्वागत
फाइल फोटो

नई दिल्लीः एक तरफ जहां देश में चीनी उत्पादों के बहिष्कार और चीन के खिलाफ लोगों का जमकर गुस्सा निकल रहा है, वहीं दूसरी एक ब्रिटिश मल्टीनेशनल कंपनी ने 2 हजार भारतीयों को अपने यहां पर नौकरी देने का ऐलान किया है. ऑयल एंड गैस कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम ने कहा है कि वो पुणे में अपना ग्लोबल बिजनेस सर्विस सेंटर खोलने जा रही है.

जनवरी से शुरू होगा ऑफिस
बीपी ने कहा है कि उसका ये ऑफिस जनवरी 2021 से शुरू होगा. फिलहाल ये पूरे विश्व के लिए बीपीओ और एडवांस एनालिटिक्स कैपेबिलिटी जैसी सेवाएं देगा, जिससे कंपनी को विश्व स्तर पर मदद मिलेगी. इसके साथ ही ये नया सेंटर थर्ड पार्टी बिजनेस को भी मदद देगा.

सरकार ने किया स्वागत
बीपी के इस ऐलान का पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने स्वागत किया है. प्रधान ने कहा कि कंपनी के इस कदम से स्थानीय स्तर पर लोगों को नौकरियां मिलेंगी. इसके साथ ही लोकल डिजिटल टैलेंट पूल को आगे ले जाने में भी मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें: सुरक्षा एजेंसियों का अलर्ट! TikTok, Zoom समेत 50 चीनी ऐप्स से देश की सुरक्षा को खतरा

10 हजार लोग किए बाहर
कोरोना वायरस के चलते कंपनी ने विश्वस्तर पर 10 हजार लोगों को बाहर करने का ऐलान किया था. बीपी में फिलहाल वैश्विक स्तर पर कुल 70 हजार कर्मचारी काम करते हैं. कंपनी के सीईओ बर्नाड लूनी ने कहा था कि तेल की वैश्विक स्तर पर खपत काफी कम हो गई है. इस छंटनी से कंपनी को अपना नुकसान कम करने में मदद मिलेगी.