मोदी सरकार ने एयर इंडिया में 49 प्रतिशत एफडीआई को दी मंजूरी

सूत्रों के अनुसार, मंत्रिमंडल ने बुधवार को सिंगल ब्रांड रीटेल (एकल ब्रांड खुदरा कारोबार) सहित विभिन्न क्षेत्रों के लिए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नीति में राहत के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

मोदी सरकार ने एयर इंडिया में 49 प्रतिशत एफडीआई को दी मंजूरी
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एयर इंडिया में विदेशी एयरलाइंस को 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी खरीदने के प्रावधान वाले प्रस्ताव को मंजूरी दी. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली : केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को सरकारी मंजूरी के जरिये एयर इंडिया में विदेशी एयरलाइंस को 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी खरीदने के प्रावधान वाले प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एयर इंडिया की बड़ी हिस्सेदारी भारतीय नागरिक के हाथों में बनी रहेगी.

विभिन्न क्षेत्रों के लिए FDI नीति में राहत के प्रस्ताव को मंजूरी
सूत्रों के अनुसार, मंत्रिमंडल ने बुधवार को सिंगल ब्रांड रीटेल (एकल ब्रांड खुदरा कारोबार) सहित विभिन्न क्षेत्रों के लिए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नीति में राहत के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. बता दें कि अब तक 49 फीसदी विदेशी निवेश को ही मंज़ूरी थी और सिंगल ब्रांड रीटेल में 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी थी.

 

 

भारत-कनाडा के बीच विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एमओयू को मंजूरी
इसके साथ ही केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और कनाडा के बीच विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग संबंधी सहमति पत्र (एमओयू) को मंजूरी प्रदान कर दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में कनाडा के साथ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संबंधी एमओयू को मंजूरी दी गई. इस सहमति पत्र में भारत और कनाडा की अकादमिक संस्थाओं के बीच अनुसंधान एवं शोध तथा वैज्ञानिक सहयोग को मजबूत बनाने और इस उद्देश्य के लिए एक तंत्र तैयार करने की बात कही गई है.

इस एमओयू को भारत का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग और कनाडा का नेचुरल साइंस एंड इंजीनियरिंग रिसर्च काउंसिल लागू करेगी. इसके तहत सामुदायिक बदलाव एवं टिकाऊ परिवर्तन कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाएगए और इसके तहत भारत-कनाडा बहुआयामी शोध सहयोग को प्रोत्साहित किया जाएगा.

(इनपुट भाषा से भी)