close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डिजिटल लेनदेन बढ़ाने की जरूरत, कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाना है: मोदी

नरेंद्र मोदी ने कहा कि नोटबंदी के बाद देश में डिजिटल लेनदेन में 34 प्रतिशत वृद्धि हुई है और प्रीपेड भुगतान भी करीब 44 प्रतिशत बढ़ा है.

डिजिटल लेनदेन बढ़ाने की जरूरत, कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाना है: मोदी
आज़ादी की 70वीं वर्षगांठ पर लालकिले की प्राचीर से देश को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (PHOTO : PMO India/Twitter)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से पुरानी सोच छोड़कर कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने पर जोर दिया है. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद देश में डिजिटल लेनदेन में 34 प्रतिशत वृद्धि हुई है और प्रीपेड भुगतान भी करीब 44 प्रतिशत बढ़ा है. प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं को नये भारत के निर्माण में आगे आकर नेतृत्व करने और डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिये कहा. उन्होंने कहा कि आज जो कागज के नोट चल रहे हैं डिजिटल करेंसी उसका स्थान लेने वाली है. सब बदलने वाला है.

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लालकिले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुये प्रधानमंत्री ने कहा, ‘दुनिया में हमारी पहचान सूचना प्रौद्योगिकी से है, डिजिटल वर्ल्ड के द्धारा है. क्या अब भी हम उसी पुरानी सोच में रहेंगे. एक जमाने में चमड़े के सिक्के चलते थे, धीरे धीरे लुप्त हो गये, कोई पूछने वाला नहीं रहा. आज जो कागज के नोट हैं, समय आते जाते यह भी पूरा डिजिटल करेंसी में परिवर्तित होने वाला है. हम नेतृत्व करें, हम डिजिटल लेनदेन की तरफ जायें, हम भीम एप को अपनायें और आर्थिक कारोबार का हिस्सा बनायें.’ उन्होंने कहा कि हमें प्रीपेड कार्ड को भी बढ़ावा देना चाहिये. ‘मुझे खुशी है कि डिजिटल लेनदेन बढ़ा है. पिछले साल के मुकाबले इसमें 34 प्रतिशत इजाफा हुआ है और प्रीपेड भुगतान में करीब 44 प्रतिशत वृद्धि हुई है. हमें कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था को लेकर आगे बढ़ना चाहिये.’

पीएम मोदी बोले- 800 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भ्रष्टाचार और कालाधन के खिलाफ लड़ाई जारी रखने की सरकार की प्रतिबद्धता जताते हुये मंगलवार (15 अगस्त) को कहा कि सरकार के इस दिशा में उठाये गये कदमों से देश में ईमानदारी का उत्सव मनाया जा रहा है और बेईमानी को सिर छुपाने की जगह नहीं मिल रही है.उन्होंने यह भी कहा कि अप्रत्यक्ष कर क्षेत्र में माल एवं सेवाकर (जीएसटी) का क्रियान्वयन सफल रहा है और करोड़ों लोगों को इसका लाभ मिला है. इतने कम समय में जीएसटी का लागू होना देश के लिये गर्व की बात है. जीएसटी के बाद राज्यों की सीमाओं से चेक पोस्ट हटे हैं जिससे माल लाने ले जाने में लगने वाले समय में 30 प्रतिशत तक कमी आई है.

स्वतंत्रता दिवस पर यहां लालकिले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुये प्रधानमंत्री ने कहा, ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी. सरकार द्वारा उठाये गये कदमों से देश में आज ईमानदारी का उत्सव मानाया जा रहा है जबकि बेईमानी के लिये सिर छुपाने की जगह नहीं मिल रही है. भ्रष्टाचार के खिलाफ जारी लड़ाई में 800 करोड़ रुपये के बेनामी संपत्ति जब्त की गई है.’ उन्होंने कहा कि सरकार जो कहती है उसे संकल्पबद्ध होकर करती है.‘‘हमने साक्षात्कार खत्म करने की बात की, उसे किया. व्यापारियों के लिये प्रक्रिया सरल बनाई गई है.’