close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गन्ना पेराई का नया सीजन शुरू, कुल 1.25 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ

एनएफसीएसएफ ने सोमवार को एक बयान के जरिए बताया कि देशभर में 28 चीनी मिलों में गन्ने की पेराई आरंभ हो चुकी है अब तक सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 13 चीनी मिलें चालू हो चुकी हैं. इसके बाद नौ मिलें कर्नाटक में चालू हो चुकी हैं.

गन्ना पेराई का नया सीजन शुरू, कुल 1.25 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ
फाइल फोटो

नई दिल्ली : चीनी मिलों में गन्ने की पेराई और चीनी का उत्पादन नए पेराई सत्र 2019-20 में आरंभ होने में थोड़ा विलंब हुआ, लेकिन देशभर की 28 चीनी (Sugar) मिलें अब चालू हो गई हैं. अब तक 14.50 लाख टन गन्ने की पेराई से कुल 1.25 लाख टन चीनी का उत्पादन हो चुका है. यह जानकारी सहकारी चीनी मिलों के संगठन नेशनल फेडरेशन ऑफ को-ऑपरेटिव शुगर फैक्टरीज लिमिटेड यानी एनएफसीएसएफ से मिली.

LIVE TV...

एनएफसीएसएफ ने सोमवार को एक बयान के जरिए बताया कि देशभर में 28 चीनी मिलों में गन्ने की पेराई आरंभ हो चुकी है अब तक सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 13 चीनी मिलें चालू हो चुकी हैं. इसके बाद नौ मिलें कर्नाटक में चालू हो चुकी हैं. तमिलनाडु में छह मिलों में चीनी का उत्पादन आरंभ हो चुका है. एक अक्टूबर से आरंभ होने वाले चीनी उत्पादन एवं विपणन वर्ष में इस साल थोड़ा देर से गन्ने की पेराई का कार्य आरंभ हुआ है.

एनएफसीएसएफ के प्रेसीडेंट दिलीप वल्से पाटिल ने एक बयान में कहा, "गन्ने का रकबा घटने के साथ-साथ उत्पादकता में कमी के चलते इस चालू सीजन 2019-20 में चीनी के उत्पादन में कमी आ सकती है. देश में चीनी का उत्पादन चालू सीजन में 260-265 लाख टन रहने का अनुमान है जबकि पिछले साल भारत में चीनी का उत्पादन 331 लाख टन था. इस प्रकार पिछले साल के मुकाबले इस साल चीनी के उत्पादन में करीब 70 लाख टन की कमी आ सकती है."