close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

12 जून को नीरव मोदी ने ट्रेन से की लंदन से ब्रसेल्स की यात्रा : CBI सूत्र

देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले का आरोपी नीरव मोदी भारतीय पासपोर्ट पर खुलेआम यात्रा कर रहा है. नीरव मोदी के पास छह पासपोर्ट होने की जानकारी मिलने के बाद भारतीय एजेंसियों को एक और बड़ी जानकारी हाथ लगी है.

12 जून को नीरव मोदी ने ट्रेन से की लंदन से ब्रसेल्स की यात्रा : CBI सूत्र

नई दिल्ली : देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले का आरोपी नीरव मोदी भारतीय पासपोर्ट पर खुलेआम यात्रा कर रहा है. नीरव मोदी के पास छह पासपोर्ट होने की जानकारी मिलने के बाद भारतीय एजेंसियों को एक और बड़ी जानकारी हाथ लगी है. सीबीआई सूत्रों ने बताया कि 12 जून को नीरव ने हाई स्पीड ट्रेन के जरिए लंदन से ब्रसेल्स का सफर तय किया था. सूत्रों ने यह भी बताया कि इस यात्रा के दौरान नीरव ने प्लेन से यात्रा करने के बजाय ट्रेन से जाना ज्यादा मुनासिब समझा.

24 फरवरी को रद्द हो चुका है पासपोर्ट
इसे मिनिस्ट्री ऑफ एक्सटरल अफेयर्स की चूक माना जा रहा है. ऐसे में यह सामने आ रहा है कि भारतीय अधिकारियों ने उचित समय पर सही जगह जानकारी नहीं दी. टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के अनुसार भारतीय अधिकारियों को इस बारे में यूरोपियन इमीग्रेशन अथॉरिटी से मोदी के पासपोर्ट के आधार पर ब्रसेल्स ट्रिप के बारे में जानकारी जुटाई. हालांकि नीरव मोदी का पासपोर्ट 24 फरवरी को रद्द किया जा चुका है. आपको बता दें कि 13 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा के पीएनबी घोटाले का आरोपी नीरव मोदी देश से फरार है.

इससे पहले भारतीय एजेंसियों को घोटाले के आरोपी नीरव मोदी के पास कम से कम 6 भारतीय पासपोर्ट होने की बात पता चली थी. भारतीय अधिकारियों ने पाया था कि नीरव मोदी के पासपोर्ट रद्द किये जाने के बावजूद वह लगातार यात्राएं कर रहा है. इस दौरान उसके पास 6 पासपोर्ट होने का खुलासा हुआ है. इनमें से दो पिछले कुछ समय से सक्रिय हैं. सूत्रों ने बताया कि चार अन्य पासपोर्ट सक्रिय नहीं पाए गए हैं.

उन्होंने बताया कि दो सक्रिय पासपोर्ट में से एक में नीरव का पूरा नाम लिखा हुआ है जबकि दूसरे में उसका पहला नाम लिखा है. इस पासपोर्ट के आधार पर ही उसे ब्रिटेन का 40 माह का वीजा मिला हुआ है. ऐसे में पहले पासपोर्ट को रद्द करने के बावजूद नीरव मोदी लगातार यात्राएं कर रहा है. सूत्रों ने बताया कि सरकार ने विदेश मंत्रालय के जरिये इंटरपोल को नीरव के दो रद्द पासपोर्ट की जानकारी दी थी लेकिन समान अंतरराष्ट्रीय तंत्र के अभाव में कई देशों में दस्तावेजों को वैधानिक तरीके से निरस्त नहीं किया जा सका है.

भगोड़ा हीरा कारोबारी इसी का फायदा उठाते हुए संभावित तौर पर हवाई अड्डों और बंदरगाहों के जरिये यात्रा कर रहा है. सुरक्षा प्रतिष्ठान से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'नीरव मोदी के खिलाफ एक और प्राथमिकी दर्ज की जा सकती है और आंतरिक जांच पूरी होने के बाद उस पर मुकदमा चलाया जा सकता है.' उन्होंने कहा कि इस बात की भी जांच की जा रही है कि विभिन्न देशों की यात्रा के लिए नीरव दूसरे देश द्वारा जारी पासपोर्ट का इस्तेमाल तो नहीं कर रहा है.