'तानाशाह' किम जोंग उन का रहस्यमयी प्लेन, अंदर से है आलीशान, लेकिन...

उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन अपनी सनक के लिए मशहूर है. किम अपनी शानोशौकत में कोई कमी नहीं रखता. उसके पास खानदानी रहस्यमयी ट्रेन है तो वहीं, एक रहस्यमयी प्राइवेट जेट भी है.

'तानाशाह' किम जोंग उन का रहस्यमयी प्लेन, अंदर से है आलीशान, लेकिन...
चीन के एयरपोर्ट पर ली गई यह तस्वीर, किम अपने चीनी मजबानों की तरफ हाथ हिलाते हुए भी देखा गया.

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन अपनी सनक के लिए मशहूर है. किम अपनी शानोशौकत में कोई कमी नहीं रखता. उसके पास खानदानी रहस्यमयी ट्रेन है तो वहीं, एक रहस्यमयी प्राइवेट जेट भी है. इस जेट की खासियत यह है कि इसमें वो तमाम सुविधाएं हैं जो एक प्राइवेट जेट में होनी चाहिए. लेकिन, फिर भी किम को इसमें सफर करने से डर लगता है. वह उत्तर कोरिया से बाहर इस प्लेन से कहीं नहीं जाता. हालांकि, इस बार वह चीन दौरे पर इसी विमान से गया है. इसके पीछे भी उसका एक डर है. 

कमाल है 'एयरफोर्स उन'
किम जोंग उन के विमान को आधिकारिक रूप से ‘‘चमाई-1’’ और ‘‘गोशौक-1’’ के नाम से जाना जाता है. लेकिन, यह ‘‘एयरफोर्स उन’’ के नाम से ज्यादा प्रसिद्ध है. दरअसल, गोशौक उत्तर कोरिया का राष्ट्रीय पक्षी है, जिसके नाम पर विमान का नाम पड़ा है. गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति के निजी विमान का नामा ‘‘एयरफोर्स वन’’ है. इसी को देखते हुए किम जोंग उन ने भी अपने विमान का नाम अमेरिकी विमान के नाम पर रखा ‘‘एयरफोर्स उन’’. सोवियत संघ में तैयार इस विमान पर उत्तर कोरिया का आधिकारिक नाम और ध्वज दिखाई देता है.

उत्‍तर कोरिया: तानाशाह किम जोंग उन के 'जूतों' का क्‍या है रहस्‍य?

चार साल पहले दिखा था विमान
किम जोंग उन का प्राइवेट जेट पहली बार चार साल पहले देखा गया था. किम इस प्राइवेट जेट से अपने देश में अलग-अलग जगहों का दौरा करता है. विमान के अंदर की तस्वीरें शायद ही कभी सार्वजनिक रूप से दिखाई देती हों. लेकिन, सरकारी अखबार राडोंग सिनमुन ने इसकी तस्वीरें प्रकाशित की हैं. जिनमें किम एक बड़ी सी कुर्सी पर बैठा दिखता है और विमान की खिड़की से बाहर झांकते हुए दिखता है. बताया जा रहा है कि किम अपने चीनी मजबानों की तरफ हाथ हिलाते हुए भी देखा गया.

VIDEO: किम खानदान की रहस्‍यमयी ट्रेन, जिससे 3 पीढ़ियों ने किया सफर

किम जोंग उन, kim jong un, North Korea, china, Kim Jong Un private jet, Kim Jet inside pics

लंबी उड़ान के काबिल नहीं विमान
किम जोंग उन की डोनाल्ड ट्रंप के साथ मुलाकात प्रस्तावित है. जून के पहले हफ्ते में यह मुलाकात हो सकती है. लेकिन, किम जोंग अमेरिकी राष्ट्रपति से कहां मिलेगा और कैसे मिलेगा. क्योंकि, उसका विमान ज्यादा लंबी उड़ान नहीं भर सकता. मुमकिन है कि यह बात किम जोंग को बुरी लगे. लेकिन सच तो यही है कि किम का विमान तो उड़ ही नहीं सकता. वो यूरोप तक भी नहीं जा सकता. उसके विमान को एयरफोर्स उन कहते हैं, जो शीतयुद्ध के समय का है. जानकार कहते हैं कि उस पर भरोसा नहीं किया जा सकता. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या किम ऐसे में इस विमान से उड़ान भरने का खतरा उठाएगा.

किम जोंग उन, kim jong un, North Korea, china, Kim Jong Un private jet, Kim Jet inside pics

प्लेन से सफर करने से डरता है किम
अमेरिकी राष्ट्रपति से किम की मुलाकात अगले महीने की शुरूआत में होनी है. मगर उससे पहले उत्तर कोरिया के मार्शल किम जोंग उन अपना होम वर्क पूरा कर लेना चाहते हैं. उसे इसी तरह देखा जा रहा है क्योंकि, वह डेढ़ महीने में दो बार चीन का दौरा कर चुका है. इतना ही नहीं विमान से यात्रा करने से कतराने वाले किम जोंग उन अपने पर्सनल विमान से चीन पहुंच गया. सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि किम हमेशा से प्लेन से सफर करने से परहेज़ करता है, फिर भी चीन का सफर उसने प्लेन से तय किया.

किम जोंग-उन का ये राज नहीं जानती थी दुनिया, सामने आया सबसे बड़ा 'सच'

किम जोंग उन, kim jong un, North Korea, china, Kim Jong Un private jet, Kim Jet inside pics

पहली बार विमान से की विदेश यात्रा
दक्षिण कोरिया की न्यूज एजेंसी ने दावा किया है कि किम पहली बार विमान से किसी विदेशी यात्रा पर गया है क्योंकि, विमान को पूरी सुरक्षा के बीच डालियान एयरपोर्ट पर उतारा गया था. ये तस्वीरें किम के चीन में लैंडिंग करते हुए और फिर उनके स्वागत की हैं. 

किम जोंग उन, kim jong un, North Korea, china, Kim Jong Un private jet, Kim Jet inside pics

रहस्यमयी ट्रेन से सफर करता है खानदान
इससे पहले चीन की यात्रा के लिए किम ने अपनी खानदानी ट्रेन का इस्तेमाल किया था. ऐसा इसलिए क्‍योंकि किम का परिवार ही इस हरे रंग और पीली पट्टी वाली ट्रेन में सफर करता है. यह इसलिए भी खास है क्‍योंकि किम खानदान हवाई यात्राओं से परहेज करता है. षडयंत्र का खतरा या हवाई उड़ान से डर इसकी वजह हो सकती है. लेकिन जब भी सत्‍ताधारी किम खानदान को उत्‍तर कोरिया से बाहर देखा गया है तो इसी खास ट्रेन से वह उन विदेशी दौरों पर गए हैं.