ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म Amazon, Flipkart की Flash Sale पर रोक लगाने का इरादा नहीं, सरकार ने दी सफाई

  e-Commerce Sale: Amazon, Flipkart जैसी बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियों पर डिस्काउंट और SALE पर कोई रोक नहीं लगाई जाएगी. आज उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने इस पर सफाई जारी की है.

ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म  Amazon, Flipkart की Flash Sale पर रोक लगाने का इरादा नहीं, सरकार ने दी सफाई

नई दिल्ली:  e-Commerce Sale: Amazon, Flipkart जैसी बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियों पर डिस्काउंट और SALE पर कोई रोक नहीं लगाई जाएगी. आज उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने इस पर सफाई जारी की है. खबर आई थी कि सरकार ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर गलत तरीके से भारी छूट,  Flash Sale और मिस सेलिंग पर लगाम लगाने के लिए नियमों बदलाव करने जा रही है. जिससे फ्लैश सेल पर लगाम लग जाएगी.

'फ्लैश सेल पर रोक लगाने का इरादा नहीं'

उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की ओर से आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मामले पर जानकारी दी गई है. सरकार ने बताया है कि ई कॉमर्स प्लेटफार्म पर डिस्काउंट/ सेल जारी रहेगी. सरकार का फ्लैश सेल पर रोक लगाने का कोई इरादा नहीं है. सरकार ने साफ किया कि नया ड्राफ्ट ई-कॉमर्स पोर्टल की बिज़नेस एक्टिविटी पर कोई रोक नहीं लगा रहा है. फ्लैश सेल की आड़ में ग्राहकों के साथ धोखाधड़ी और फर्ज़ी कंपनियों पर रोक लगाने के लिए नए प्रावधान ड्राफ्ट रूल में शामिल किए गए हैं. हालांकि ये रूल्स अभी फाइनल नहीं हुए हैं. 

ये भी पढ़ें- Driving License एक्सपायर हुआ तो भी नहीं कटेगा चालान, सरकार ने बढ़ाई वैलिडिटी

'जिसकी शिकायत सिर्फ उनकी जांच होगी'

सरकार ने साफ किया कि हर फ्लैश सेल की जांच नहीं होगी, सिर्फ उन्हीं की जांच की जाएगी जिसे लेकर हमें कोई शिकायत मिलती है. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मंत्रालय ने ड्राफ्ट की जानकारी देते हुए बताया कि हर प्रोडक्ट के इम्पोर्ट या मैन्युफैक्चरिंग की पूरी जानकारी उपलब्ध करानी होगी. साथ ही ई-कॉमर्स कंपनियों को इम्पोर्ट सोर्स की जानकारी देनी होगी. यानी प्रोडक्ट किस देश से मंगवाया गया है ये बताना होगा. 

सरकार को मिलीं थी कई शिकायतें

आपको बता दें कि ई-कॉमर्स वेबसाइट्स जैसे Flipkart और Amazon समय समय पर स्मार्टफोंस और दूसरे प्रोडक्ट के लिए फ्लैश सेल्स करते हैं. सरकार को उपभोक्ताओं, ट्रेडर्स और कई संघों से ई-कॉमर्स के कामकाज करने के तौर तरीकों (unfair trade practices) को लेकर कई शिकायतें मिली थीं. अब सरकार ने साफ किया है कि अगर किसी फ्लैश सेल को लेकर शिकायत मिलती तो उसकी जांच की जाएगी. दरअसल, उपभोक्ता मामलों के विभाग ने कंज्यूमर प्रोटेक्शन को लेकर प्रस्तावित संशोधनों पर सुझाव मंगाए थे. जहां पर इन फ्लैश सेल को लेकर शिकायतें मिलीं, जिससे छोटे कारोबारियों को काफी नुकसान हो रहा है. 

ये भी पढ़ें- PM Kisan Samman Yojana: इन वजहों से लटक सकती है आपकी किसान सम्मान निधि किस्त! ऐसे करें करेक्शन

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.