close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओला, उबर ड्राइवर्स ने दी हड़ताल की धमकी, इस बात से हैं परेशान

अगर आप दिल्ली-मुंबई या अन्य किसी महानगर में नौकरी करते हैं और ऑफिस ओला या उबर की टैक्सी से जाते हैं तो यह खबर आपके काम की है.

ओला, उबर ड्राइवर्स ने दी हड़ताल की धमकी, इस बात से हैं परेशान

मुंबई : अगर आप दिल्ली-मुंबई या अन्य किसी महानगर में नौकरी करते हैं और ऑफिस ओला या उबर की टैक्सी से जाते हैं तो यह खबर आपके काम की है. दरअसल मोबाइल एप पर टैक्सी बुकिंग की सुविधा प्रदान करने वाली इन दोनों ही कंपनियों से जुड़े ड्राइवर्स ने 18 मार्च से बेमियादी हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है. हड़ताल मुंबई, दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे में होने की संभावना है. ड्राइवर्स की इस हड़ताल का आह्वान महाराष्ट्र नवनिर्माण वहातुक सेना (एमएनवीएस) ने किया है. एमएनवीएस के संजय नाइक ने बताया कि ओला और उबर ने ड्राइवरों से बड़े वादे किए थे, लेकिन आज वे अपनी लागत भी नहीं निकाल पा रहे हैं. कंपनियों की वादाखिलाफी से ड्राइवर परेशान हैं.

बुकिंग में अपनी टैक्सियों को तरजीह
संजय नाइक ने कहा कि ड्राइवरों ने पांच से सात लाख रुपये निवेश किए और उन्हें मासिक आधार पर डेढ़ लाख रुपये तक कमाने की उम्मीद थी, लेकिन वह इसका आधा भी नहीं कमा पा रहे हैं, इसकी प्रमुख वजह इन कंपनियों का कुप्रबंधन है. नाइक ने आरोप लगाया कि बुकिंग में यह कंपनियां उनके स्वामित्व वाली टैक्सियों को तरजीह देती हैं, इससे भी ड्राइवरों की कमाई पर असर पड़ा है.

मुकेश अंबानी ने किया सबसे बड़ा खुलासा, जानिए किसने दिया था JIO का आइडिया

गारंटीपत्र का सत्यापन नहीं कराया
नाइक का दावा है कि इन कंपनियों ने मुद्रा योजना के तहत ऋण लेने के लिए ड्राइवरों को गारंटीपत्र तो दिए, लेकिन उनका कोई सत्यापन नहीं किया. अब उनकी लागत पूरी नहीं होने से वह इसका भुगतान करने में सक्षम नहीं है. गौरतलब है कि अकेले मुंबई में इन कंपनियों की 45,000 से ज्यादा टैक्सियां हैं और अब काम कम होने से 20 प्रतिशत कम टैक्सियां सड़कों पर दौड़ रही हैं.

Xiaomi लेकर आया बंपर एक्सचेंज ऑफर, पुराने फोन के बदले नया लें!

उन्होंने कहा कि यदि हमारी मांगें नहीं मानी गईं तो हम अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे। उन्होने आगे कहा कि चालकों ने इस मामले में हस्तक्षेप के लिए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे से संपर्क किया है.