1 जून से पूरे देश में लागू हो रहा है 'वन नेशन-वन राशन कार्ड', जानिए इसके फायदे

इस योजना के तहत उपभोक्ता एक ही राशन कार्ड का इस्तेमाल देश में कहीं भी कर सकेंगे.

1 जून से पूरे देश में लागू हो रहा है 'वन नेशन-वन राशन कार्ड', जानिए इसके फायदे
फाइल फोटो

नई दिल्ली: रोजी-रोटी के लिए अपना घर गांव छोड़कर दूसरे राज्यों में रोजगार की तलाश में जाने वाले लोगों के लिए 1 जून से 'वन नेशन-वन राशन कार्ड' (One nation - One card) योजना पूरे देश में लागू हो जाएगी. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) ने इसकी जानकारी दी. इस योजना के तहत उपभोक्ता एक ही राशन कार्ड का इस्तेमाल देश में कहीं भी कर सकेंगे.

क्या है  'वन नेशन वन राशन कार्ड' के फायदे?
केंद्र सरकार के अनुसार 'वन नेशन-वन राशन कार्ड' रोजगार के लिए एक राज्य से दूसरे में जाने वाले नागरिकों के लिए है. दूसरे राज्यों में जाकर काम करने वाले कम आमदनी वाले लोगों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा. इसके तहत किसी भी अन्य राज्य के राशन कार्ड से अपने नजदीकी राशन की दुकान में रियायती दर पर अनाज लिया जा सकेगा. सरकार ने इनको आधार कार्ड से लिंक कर दिया हैं. इसमें ई-प्वाइंट ऑफ सेल के ज़रिए राशन लिया जा सकेगा.

12 राज्यों में जनवरी से ही शुरू हो चुकी है योजना
केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पहले चरण में 'वन नेशन वन राशन कार्ड' योजना को 12 राज्यों में लागू किया जा चुका है. पहला चरण जनवरी के पहले हफ्ते में लागु हुआ जिसमें आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, मध्यप्रदेश, गोवा, झारखंड और त्रिपुरा को शामिल किया गया था. 1 जून से यह योजना पूरे देश में लागू हो जाएगा. मोदी सरकार (Modi Govt) वन नेशन वन राशन कार्ड को संभव बनाने के लिए 880 करोड़ रुपये खर्च कर रही है. सरकार को उम्मीद है कि इससे ना केवल भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगा, बल्कि रोजगार या अन्य वजहों से एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने वाले गरीबों को सब्सिडी वाले राशन से वंचित नहीं होना पड़ेगा.