ये सोशल मीडिया ऐप्स आपके पर्सनल डेटा पर डाल रहे डाका, हो जाएं सावधान!

दोनों सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म ने माना कि इस डेटा ब्रीच में सैकड़ों यूजर्स के डेटा को गलत तरीके से एक्सेस किया गया है.

ये सोशल मीडिया ऐप्स आपके पर्सनल डेटा पर डाल रहे डाका, हो जाएं सावधान!
फाइल फोटो

नई दिल्ली: अगर आप सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक (Facebook) और ट्विटर (Twitter) यूज करते हैं तो यह आपके काफी जरूरी खबर हो सकती है. दरअसल, हाल ही में इन दोनों बड़े प्लेटफार्म पर डेटा  लीक होने की बात सामने आई है. ऐसे में आपका पर्सनल डाटा कतई सुरक्षित नहीं है. 

दोनों सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म ने माना कि इस डेटा ब्रीच में सैकड़ों यूजर्स के डेटा को गलत तरीके से एक्सेस किया गया है. ये डेटा गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) में मौजूद थर्ड पार्टी ऐप्स चोरी कर रहे थे. अब ये दोनों कंपनियां यूजर्स को नोटिफिकेशन भेज कर जानकारी दे रही हैं.

इसी के चलते भारत में भी भारतीय साइबर सुरक्षा एजेंसी कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम-इंडिया (सीईआरटी-इन) ने भी एक एडवाइजरी जारी की है. जिसमे One Audience और Mobiburn को लेकर चेताया गया है. वन ऑडियंस और मोबीबर्न सॉफ्टवेयर डेवलवमेंट किट्स (SDK) ने यूजर्स की निजी जानकारियों को एक्सेस किया है जिसमें हालिया ट्वीट्स, ई-मेल एड्रेस, और मोबाइल नंबर जैसी जानकारियां शामिल हैं.

फेसबुक ने इस डेटा ब्रीच की जानकारी होने के बाद इन ऐप्स को प्लैटफॉर्म की पॉलिसी का उल्लंघन करने के कारण हटा दिया है. वहीं ट्विटर ने भी डाटा चोरी होने की जानकारी अपने यूजर से साझा की. दरअसल, इस डेटा चोरी की जानकारी सिक्यॉरिटी रिसर्चर्स नाम की कपंनी ने दी थी. उन्होंने पता लगाया कि डेटा की चोरी गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद कुछ थर्ड पार्टी ऐप्स कर रहे थे. इसमें उन यूजर्स को ज्यादा नुकसान पहुंचा है जिन्होंने इन ऐप में लॉगइन किया था. 

तकनीकी रूप से समझा जाए तो One Audience और Mobiburn सॉफ्टवेयर डिवेलपमेंट किट यूजर्स के डेटा का ऐक्सेस दे रहे थे. इसमें ईमेल एड्रेस, यूजर नेम और और लेटेस्ट ट्वीट्स को ऐक्सेस किया जा रहा था. जिसके बारे में ट्विटर और फेसबुक को जानकारी नहीं थी. ये ऐप्स सॉफ्टवेयर डेवेलपर किट (SDK) में गलत सॉफ्टवेयर डालने के लिए डेवेलपर्स को पैसे देते थे. 

अगर आप इससे जुड़ी ऐप्स को यूज करते हैं या आपके स्मार्टफोन्स में ये ऐप्स हैं तो आप तुरंत इसे हटा दें और अगर आपको फेसबुक या ट्विटर से इस बारे में कुछ नोटिफिकेशन भेजे गए हैं तो इस पर ध्यान दें नहीं तो आपका डेटा खतरे में पड़ सकता है.