PM Kisan: 9वीं किस्त को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानें आपको मिलेंगे या नहीं 2000 रुपये
topStories1hindi945425

PM Kisan: 9वीं किस्त को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानें आपको मिलेंगे या नहीं 2000 रुपये

PM Kisan Updates: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत किसानों के खाते में अगली किस्त डाली जाने वाली है. ऐसे चेक करें लिस्ट में अपना नाम.

PM Kisan: 9वीं किस्त को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानें आपको मिलेंगे या नहीं 2000 रुपये

नई दिल्ली: PM Kisan 9th Installment Update: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत किसानों को 9वीं किस्त का इंतजार है. पीएम किसान योजना के में सरकार किसानों की मदद के लिए 2,000 रुपये की तीन किस्त यानी 6000 रुपये सालाना किसानों के खाते में सीधे भेजती है. गौरतलब है कि अब तक किसानों के खाते में इस योजना की 8 किस्त भेजी जा चुकी है. 

चेक करें अपने नाम का स्टेटस 

सरकार की इस योजना का उद्देश्य देश के किसानों की आय को बढ़ाना और सीधे तौर पर उनकी आर्थिक मदद है. अगर आपने भी PM Kisan स्कीम के लिए रजिस्ट्रेशन किया है तो आप ये जान लें कि इस योजना के लाभार्थियों की लिस्ट में आपका नाम है या नहीं. यहां दिए गए प्रोसेस से आप अपना नाम लिस्ट में तुरंत चेक कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- Aadhaar Card में लगी फोटो नहीं है पसंद? अब मिनटों में आधार कार्ड पर बदलें अपनी तस्वीर, ये रहा तरीका

ऐसे चेक करें लिस्ट में अपना नाम

1. नाम चेक करने के लिए सबसे पहले आपको पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in पर जाएं.
2. अब इसके होमपेज पर आपको Farmers Corner का ऑप्शन दिखेगा. 
3. Farmers Corner सेक्शन के भीतर Beneficiaries List के ऑप्शन पर क्लिक करें. 
4.अब आप ड्रॉप डाउन लिस्ट से राज्य, जिला, उप जिला, ब्लॉक और गांव को सेलेक्ट करें.
5. इसके बाद आप  Get Report पर क्लिक करें. 
6. इसके बाद लाभार्थियों की पूरी लिस्ट सामने आ जाएगी, जिसमें आप अपना नाम चेक कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- महिलाओं के लिए अमेजन का तोहफा! जानिए क्या है सहेली प्रोग्राम और उठाएं इसका बंपर लाभ

2 करोड़ से ज्यादा किसानों के आवेदनों में गलतियां

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 13 जुलाई 2021 तक केंद्र सरकार के पास 12.30 करोड़ लोगों की एप्लीकेशन आ चुकी हैं. लेकिन इनमें से 2.77 करोड़ किसानों के आवेदनों में गलतियां हैं. इन गलतियों को दुरुस्त किया जाना है. इसके अलावा करीब 27.50 लाख किसानों के ट्रांजैक्शन फेल हो चुके हैं और 31.63 लाख किसानों का आवेदन पहले ही लेवल पर रद्द किया जा चुका है. उत्तर प्रदेश के 2.84 करोड़ किसानों के डेटा में करेक्शन होने बाकी हैं. ऐसे किसानों की तादाद झारखंड, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में इससे भी ज्यादा है. 

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV

Trending news