PNB SCAM : रेड कार्नर नोटिस के खिलाफ इंटरपोल के पास पहुंचा मेहुल चोकसी

पीएनबी बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने रेड कार्नर नोटिस जारी करने के खिलाफ इंटरपोल से गुहार लगाई है. चोकसी की तरफ से रेड कार्नर नोटिस पर उठाई गई आपत्तियों पर भारतीय एजेंसियों की तरफ से जवाब दिया जा चुका है.

PNB SCAM : रेड कार्नर नोटिस के खिलाफ इंटरपोल के पास पहुंचा मेहुल चोकसी

नई दिल्ली : पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने रेड कार्नर नोटिस जारी करने के खिलाफ इंटरपोल से गुहार लगाई है. चोकसी की तरफ से रेड कार्नर नोटिस पर उठाई गई आपत्तियों पर भारतीय एजेंसियों की तरफ से जवाब दिया जा चुका है. सूत्रों के अनुसार फ्रांस के लियोन में इंटरपोल कमेटी रेड कार्नर नोटिस पर अक्टूबर में फैसला लेगी. आपको बता दें कि भारतीय एजेंसियों ने मेहुल चोकसी के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी करने के लिए इंटरपोल के पास आवेदन किया हुआ है. इससे पहले जुलाई में इंटरपोल ने जानकारी दी थी कि चोकसी अमेरिका से फरार हो गया है. अमेरिका में रेड कॉर्नर नोटिस जारी होने से पहले ही मेहुल चोकसी के अमेरिका से फरार होने की खबर इंटरपोल ने दी थी.

एंटीगुआ से चोकसी के प्रत्यर्पण की कोशिश
इसके बाद जानकारी सामने आई थी कि मेहुल चोकसी एंटीगुआ में है. इसके बाद भारतीय एजेंसियों ने चोकसी के प्रत्यर्पण के लिए कोशिशें तेज कर दी हैं. पिछले दिनों एंटीगुआ मीडिया की तरफ से जानकारी दी गई थी कि इंडियन हाई कमिश्नर वेंकटचालम महालिंगम ने 30 अगस्त को गुआना में एंटीगुआ सरकार के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की. मुलाकात के दौरान वेंकटचालम महालिंगम एंटीगुआ के अधिकारियों को चोकसी के काले कारनामों और पीएनबी घोटाले से अवगत कराया और चोकसी के प्रत्यर्पण की बात कही.

भंसाली के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी
दूसरे तरफ पीएनबी घोटाले के दूसरे आरोपी नीरव मोदी के सहयोगी मिहिर आर. भंसाली के खिलाफ भी इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया है. अधिकारियों ने जानकारी दी कि पंजाब नेशनल बैंक से जुड़े दो अरब डॉलर के धन शोधन मामले में नोटिस जारी किया गया है. अंतरराष्ट्रीय वारंट के रूप में काम करने वाले इस नोटिस में कहा गया है कि भंसाली (40) धन शोधन के मामले में वांछित हैं. उन्होंने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अनुरोध पर नीरव मोदी के ज्वेलरी फर्म फायरस्टार इंटरनेशनल के सीईओ भंसाली के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया है.

उन्होंने कहा, मामले की जांच को आगे बढ़ाने के लिए ईडी को भंसाली की जरूरत है. ईडी ने विश्व पुलिस को बताया कि भंसाली के अमेरिका, ब्रिटेन, हांगकांग, चीन और यूएई जाने की संभावना है. रेड कॉर्नर नोटिस जारी होने के बाद इंटरपोल ने अपने सभी 192 सदस्य देशों से भंसाली को हिरासत में लेने या गिरफ्तार करने के लिए कहा है. कुछ समय पहले इंटरपोल ने नीरव मोदी के खिलाफ भी ऐसा ही नोटिस जारी किया था.