नई सरकार के गठन के बाद पहली बार 1 जुलाई से होगी चुनावी बांड की बिक्री

नई सरकार के गठन के बाद पहली बार 1 जुलाई से होगी चुनावी बांड की बिक्री

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को 11वें दौर की बिक्री के तहत अपनी 29 अधिकृत शाखाओं के जरिये चुनावी बांड को जारी करने और भुनाने के लिए अधिकृत किया गया है. चुनावी बांड की बिक्री एक से 10 जुलाई तक होगी.

नई सरकार के गठन के बाद पहली बार 1 जुलाई से होगी चुनावी बांड की बिक्री

नई दिल्ली: वित्त मंत्रालय ने गुरुवार को चुनावी बांड की 11वें चरण की बिक्री एक से 10 जुलाई तक आयोजित करने की घोषणा की. चुनावी बांड राजनीतिक दलों को मिलने वाले नकद चंदे का विकल्प है. यह राजनीतिक चंदे की प्रक्रिया में पारदर्शिता लाने का प्रयास है. वित्त मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को 11वें दौर की बिक्री के तहत अपनी 29 अधिकृत शाखाओं के जरिये चुनावी बांड को जारी करने और भुनाने के लिए अधिकृत किया गया है. चुनावी बांड की बिक्री एक से 10 जुलाई तक होगी.’’ 

एसबीआई की नयी र्दिल्ली, गांधीनगर, चंडीगढ़, बेंगलुरु, भोपाल, मुंबई, जयपुर, लखनऊ, चेन्नई, कोलकाता और गुवाहाटी की 29 शाखाओं के जरिये चुनावी बांड की बिक्री होगी. आम चुनाव संपन्न होने और नई सरकार के गठन के बाद पहली बार चुनावी बांड जारी किए जा रहे हैं. चुनावी बांड की पहले चरण की बिक्री एक से 10 मार्च, 2018 को आयोजित की गई थी. 

Trending news