close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'Railway हर कर्मचारी को देगा ट्रेनिंग, नई चीजें सीखकर अपग्रेड होंगे'

रेल अनुदान की मांग पर लोकसभा में जवाब देते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि देश में रेल के कई पुल 100 साल से ज्यादा पुराने हो चुके हैं. उन्होंने कहा यह चिंता का विषय है लेकिन हमने अब इन सबका ऑडिट कराना शुरू कर दिया है.

'Railway हर कर्मचारी को देगा ट्रेनिंग, नई चीजें सीखकर अपग्रेड होंगे'

नई दिल्ली : रेल अनुदान की मांग पर लोकसभा में जवाब देते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि देश में रेल के कई पुल 100 साल से ज्यादा पुराने हो चुके हैं. उन्होंने कहा यह चिंता का विषय है लेकिन हमने अब इन सबका ऑडिट कराना शुरू कर दिया है. गोयल ने कहा जो भी रेल मंत्री होता है वो रात में सोने से पहले यही प्रार्थना करता है कि कही इन पुलों के चलते कोई हादसा न हो. उन्होंने बताया रेलवे जल्द ही दृष्टि एप पर इसका ब्योरा देगा कि कौन सा ब्रिज कितना पुराना है, उसका कब ऑडिट हुआ और यदि कोई मरम्मत की जानी है तो हुई क्यों नहीं.

कई प्रोजेक्ट 40 साल से भी ज्यादा पुराने
लोकसभा में जवाब देते हुए रेल मंत्री ने स्वीकार किया कि देश में रेल के कई प्रोजेक्ट ऐसे भी है 40 साल से ज्यादा पुराने है लेकिन अभी पूरे नहीं हुए. बंगाल में सबसे पुराना 1974 का रेल लाइन का प्रोजेक्ट है जो आज तक पूरा नहीं हुआ क्योंकि राज्य सरकार जमीन नहीं दे रही. ऐसे ही कई प्रोजेक्ट बंगाल में दशकों से लटके हुए हैं. इसी तरह केरल के 9 प्रोजेक्ट इसलिए पूरे नहीं हो पा रहे क्योंकि राज्य सरकार सहयोग नहीं कर रही. ये प्रोजेक्ट भी दशकों से लटके हुए हैं.

बेंगलुरु में भी सबअर्बन ट्रेन चलाने का फैसला
मोदी सरकार ने मुंबई की तर्ज पर कर्नाटक के बेंगलुरु में भी सबअर्बन ट्रेन चलाने का फैसला लिया है. रेल मंत्री ने लोकसभा में कहा कि ट्रेनों के समय पर चलने के लिए 2014 तक पुराने तरीके से बताई जाती थी अब हमने 2014 के बाद ऑटोमेटिक डेटा लॉगर सिस्टम लगाया है जिससे सही जानकारी लोगों को मिलनी शुरू हुई है. ट्रेनों की टाइमिंग और रियल टाइम लोकेशन आज कोई भी रेल दृष्टि एप पर देख सकता है.

2 लाख से ज्यादा बायो टॉयलेट लगाए जा चुके
रेलवे के हर कर्मचारी को अब साल में एक सप्ताह की ट्रेनिंग निश्चित की गई है जिससे वो नई चीजें सीखकर अपग्रेड हो सके. सरकार ने तय किया है कि ब्रॉडगेज लाइन का हम 100 फीसदी विद्युतीकरण करेंगे. रेलवे सभी 58,400 कोच में बायो टॉयलेट लगाएगा. 2 लाख से ज्यादा बायो टॉयलेट लगाए जा चुके हैं. रेल मंत्री ने कहा मोदी सरकार ने 2014 से अबतक 457 एक्सलेटर और 377 लिफ्ट रेलवे स्टेशन पर लगाई हैं.

विभिन्न माध्यमों से रेलवे में निवेश ला रहे
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा हम विभिन्न माध्यमों से रेलवे में निवेश ला रहे है हमारा इरादा साढ़े 8 लाख करोड़ का निवेश लाने का है. रेलवे ने अभी तक 18,000 करोड़ एलआईसी से कर्ज लिया है. एनडीए सरकार ने बीते 5 साल में 13 हजार किलोमीटर रेल लाइन का विद्युतीकरण किया है. रेल मंत्री ने निजीकरण की और इशारा करते हुए लोकसभा में कहा है कि सरकार आने वाले दिनों में रेलवे की कुछ यूनिट्स का कॉर्पोरेटकरण करेगी.

रेल मंत्री ने कहा देश में आईसीएफ कोच बनने पूरी तरह से बंद हो गए हैं अब एलएचबी तेजी से बनाये जा रहे हैं इनसे दुर्घटनाओं में कमी आई है. रेलमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राय बरेली की मॉडर्न रेल कोच फैक्टरी में 2014 तक न तो कर्मचारी थे और न ही एक भी कोच बना, मोदी सरकार आने के बाद इस फैक्टरी में तेजी से काम हुआ और अब यही मॉडर्न कोच हर साल 2500 कोच बनाने लगी है. रेलवे इस साल 5 हजार 690 करोड़ रेल यात्री सुरक्षा पर खर्च करेगा. रेलमंत्री ने लोकसभा में बताया कि बीते वर्षों के मुकाबले रेल हादसों में कमी आई है.