close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Railway फिर शुरू कर रहा रामायण एक्सप्रेस, इन स्टेशनों से होकर गुजरेगी

भारतीय रेलवे (Indian Railway) की तरफ से एक बार फिर से श्री रामायण एक्सप्रेस को शुरू करने की घोषणा की गई है. भगवान राम के जीवन से जुड़े अहम स्थलों से होकर गुजरने वाली इस ट्रेन को शुरू करने की मांग श्रद्धालुओं की तरफ से पिछले काफी समय से की जा रही थी.

Railway फिर शुरू कर रहा रामायण एक्सप्रेस, इन स्टेशनों से होकर गुजरेगी

नई दिल्ली : भारतीय रेलवे (Indian Railway) की तरफ से एक बार फिर से श्री रामायण एक्सप्रेस को शुरू करने की घोषणा की गई है. भगवान राम के जीवन से जुड़े अहम स्थलों से होकर गुजरने वाली इस ट्रेन को शुरू करने की मांग श्रद्धालुओं की तरफ से पिछले काफी समय से की जा रही थी. पहले की ही तरह ट्रेन से यात्रियों को भगवान राम के जीवन से जुड़े पौराणिक स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे. इसमें फ्लाइट के जरिये श्रीलंका जाने का विकल्प भी मिलेगा. इस बार रेलवे की तरफ से इस ट्रेन का सफर 3 नवंबर से शुरू होगा.

भारी डिमांड के रेलवे ने किया री-लॉन्च
आपको बता दें साल 2018 में चलाई गई रामायण एक्सप्रेस की सफलता को देखकर रेलवे ने इस ट्रेन को एक बार फिर से चलाने का निर्णय लिया है. इस बार यात्रियों के लिए दो टूर पैकेज मुहैया कराए जा रहे हैं. पहले की ही तरह इस पूरे टूर को इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (IRCTC) की तरफ से मैनेज किया जा रहा है. यह आईआरसीटीसी के भारत दर्शन (Bharat Darshan) पैकेज का हिस्सा होगी.

जयपुर और इंदौर से शुरू होगी ट्रेन
पहली ट्रेन का नाम 'श्री रामायण यात्रा' (Shri Ramayana Yatra) होगा, जो कि 3 नवंबर को जयपुर से चलेगी और दिल्ली होते हुए अयोध्या पहुंचेगी. वहीं दूसरी ट्रेन 'रामायण एक्सप्रेस' (Ramayana Express)  18 नवंबर को इंदौर से शुरू होकर वाराणसी होते हुए अयोध्या पहुंचेगी. श्री रामायण यात्रा जयपुर से शुरू होगी और यह अलवर, रेवाड़ी, दिल्ली सफदरजंग, गाजियाबाद, मुरादाबाद, बरेली और लखनऊ से होकर गुजरेगी.

फ्लाइट से कोलंबो जा सकेंगे यात्री
वहीं 18 नवंबर को शुरू होने वाली रामायण एक्सप्रेस इंदौर से शुरू होकर देवास, उज्जैन, मकसी, सुजालपुर, सिहोर, विदिशा, गंज बसोडा, बीना, ललितपुर और झांसी से होकर गुजरेगी. श्रीलंका में भगवान राम से जुड़ी महत्वपूर्ण जगहों को दिखाने के लिए चेन्नई से फ्लाइट के जरिये पर्यटकों को कोलंबो ले जाया जाएगा. इस ट्रेन के जरिये श्रद्धालुओं को नासिक, पंचवटी, जनकपुर धाम होते हुए रामेश्वरम तक ले जाया जाएगा. जो पर्यटक श्रीलंका जाना चाहते हैं उन्हें फ्लाइट से ले जाया जाएगा. कोलंबो की लिमिटेड सीट ही हैं.

भारतीय रेलवे, indian railway, Shri Ramayana Yatra, Ramayana Express

इन जगहों पर दर्शन करने और घूमने की सुविधा
राम जन्मभूमि, हनुमानगढ़ी, भारत मंदिर, सीमा माता मंदिर, तुलसी मानस मंदिर, संकट मोचन मंदिर, सीता समाहित स्थल, त्रिवेणी संगम, हनुमान मंदिर, भारद्वाज आश्रम, चित्रकूट, नासिक, हंपी और रामेश्वरम के दर्शन कराए जाएंगे. वहीं श्रीलंका में सीता माता मंदिर, अशोक वाटिका, विभीषण मंदिर और शिव मंदिर सहित कई जगहें दिखाई जाएंगी. 3 नवंबर से शुरू होने वाले टूर में कुल 16 रात और 17 दिन का समय लगेगा.

रेलवे की तरफ से मिलेगी यह सुविधा
यात्रा के दौरान सभी यात्रियों को शाकाहारी खाना, रहने के लिए धर्मशाला, मंदिरों के दर्शन के लिए नॉन एसी बसों की व्यवस्था और सुरक्षा के इंतजाम रेलवे की ओर से किया जाएगा. पूरे टूर के दौरान यात्रियों के साथ आईआरसीटीसी की तरफ से एक टूर मैनेजर रहेगा. इस ट्रेन में कुल 800 यात्री सफर कर सकेंगे. श्रीलंका के लिए 40 सीट मुहैया होंगी. 18 नवंबर को इंदौर से शुरू होने वाला टूर 14 रात और 15 दिन का होगा. इस टूर में अयोध्या, सीतामणी, जनकपुर, वाराणसी, प्रयागराज, चित्रकूट, नासिक, हम्पी, रामेश्वरम और मदुरै से होकर गुजरेगी.

भारतीय रेलवे, indian railway, Shri Ramayana Yatra, Ramayana Express

यह होगा किराया
जयपुर से शुरू होने वाली ट्रेन से भारत और नेपाल में यात्रा करने वाले यात्रियों को 16065 रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से किराया देना होगा. वहीं इंदौर से चलने वाली ट्रने का किराया 3AC के लिए 17325 रुपये प्रति व्यक्ति रखा गया है. वहीं स्लीपर के लिए 14175 रुपये स्लीपर क्लास के लिए रखा गया है. श्रीलंका की यात्रा करने वालों को 36950 रुपये अलग से देने होंगे.