close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Indian Railways की मुंबई को बड़ी सौगात, हफ्ते में 4 दिन चलेगी राजधानी एक्सप्रेस

Rajdhani Express Flagged Off : केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को रेलवे यात्रियों को सबसे बड़ी सौगात दी है. यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए मध्य रेलवे की राजधानी एक्सप्रेस की सेवा को हफ्ते में दो दिन से बढ़ाकर चार दिन कर दिया गया है.

Indian Railways की मुंबई को बड़ी सौगात, हफ्ते में 4 दिन चलेगी राजधानी एक्सप्रेस

मुंबई/ नई दिल्ली : केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को रेलवे यात्रियों को सबसे बड़ी सौगात दी है. यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए मध्य रेलवे की राजधानी एक्सप्रेस की सेवा को हफ्ते में दो दिन से बढ़ाकर चार दिन कर दिया गया है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हरी झंडी दिखाकर राजधानी एक्सप्रेस को रवाना किया. इस दौरान ट्रेन को बिल्कुल दुल्हन की तरह सजाया गया था.

ये सुविधाएं भी दी
इसके अलावा केंद्रीय मंत्री ने रेलवे दावा अधिकरण (RCT) मुंबई की द्वितीय न्यायपीठ भवन, 14 फुटओवर ब्रिज, 4 एस्केलेटर, एक नवीनीकृत यात्री कॉरीडोर, दो नए बुकिंग कार्यालय, दो स्टेशनों पर HVLS पंखें, 2 ग्रीन स्टेशन, 22 स्टेशनों पर IP आधारित LED इंडीकेटर, 13 स्टेशनों के कवर ओवर प्लेटफॉर्म में सुधार, 9 स्टेशनों पर प्लेटफार्मों का पुन: सतहीकरण और 29 स्टेशनों पर निःशुल्क वाई-फाई सुविधा मुंबई के लोगों को दी.

भारतीय रेलवे, indian railways, Piyush Goyal, mumbai rajdhani express

यह भी देखें: 

दूसरी तरफ रेलवे की तरफ से यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जल्द ही पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को लखनऊ से मुंबई के बीच शुरू किया जाएगा. यह ट्रेन लखनऊ से सुबह 6.10 मिनट पर रवाना होने के बाद दोपहर 12.25 बजे नई दिल्ली पहुंच जाएगी. जल्द ही ट्रेन के टिकट के लिए बुकिंग शुरू हो जाएगी.

इस मौके पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, मोदी सरकार के 102 दिन में 102 नए विकल्पों का उद्घाटन किया गया. इसमें मुंबई को भी सौगात दी गई. आज के दिन 40574 रेलवे स्टेशन में मुफ्त वाइफाई सेवा दी जा रही है, इसकी स्पीड अन्य किसी भी सर्विस प्रोवाइडर से तेज है. यह केवल यात्रियों की सुविधाओं के लिए नहीं बल्कि इसके पीछे मोदी जी की सोच है.

मोदी जी सोच है कि रेलवे का इंफ्रास्ट्रक्चर जनता के काम आए. इसी लिए मोदी जी ने वाईफाई ऑप्टिक कनेक्शन को रेलवे स्टेशन से जोड़ने की शुरुआत की ताकि हर शहर और गांव को जोड़ा जाए. इस तरह की सोच अब्दुल कलाम जी ने रखी थी. हमने सोलर से कई स्टेशन को जोड़ा है. हमने 45 प्रतिशत रेलवे को बिजली युक्त किया, बाकी बचे 55 प्रतिशत को भी बिजली युक्त करना है.

सरकार का लक्ष्य आने वाले समय में डीजल कम से कम इस्तेमाल करना है. हम जितनी बिजली खत्म करेंगे उतनी हम सोलर से जेनेरेट करे इसपर भी जोर दिया जाएगा. क्लाइमेट चेंज बड़ी चुनौती है और इस तरह से हम प्रकृति के लिए अपना काम करे.