ब्रिटेन के इस्पात उद्योग के ‘खेवनहार’ रूप में सराहे गए रतन टाटा

ब्रिटेन के एक अखबार में टाटा संस के अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा की सराहना करते हुए रविवार को उन्हें ब्रिटेन के इस्पात उद्योग का खेवनहार बताया गया। उल्लखेनीय है कि टाटा समूह ने पिछले साल घोषणा की कि वह ब्रिटेन में हजारों रोजगार बचाने के लिए 10 साल में एक अरब पौंड का निवेश करेगा।

ब्रिटेन के इस्पात उद्योग के ‘खेवनहार’ रूप में सराहे गए रतन टाटा

लंदन: ब्रिटेन के एक अखबार में टाटा संस के अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा की सराहना करते हुए रविवार को उन्हें ब्रिटेन के इस्पात उद्योग का खेवनहार बताया गया। उल्लखेनीय है कि टाटा समूह ने पिछले साल घोषणा की कि वह ब्रिटेन में हजारों रोजगार बचाने के लिए 10 साल में एक अरब पौंड का निवेश करेगा।

अखबार संडे टाइम्स ने इस घटना के मद्देनजर एक विशेष फीचर ‘मन ऑफ स्टील’ प्रकाशित किया है। इसमें कहा गया है कि साइरस मिस्त्री को पद से हटाए जाने व रतन टाटा के अंतरिम चेयरमैन बनने के कारण ही ब्रिटेन के इस्पात उद्योग में हजारों नौकरियां बच पाई हैं।

इसमें रतन टाटा को 2007 में टाटा स्टील द्वारा कोरस के अधिग्रहण का सूत्रधार बताया गया है। उल्लेखनीय है कि मिस्त्री को 24 अक्टूबर को टाटा संस के चेयरमैन पद से हटा दिया गया। उनकी जगह रतन टाटा को अंतरिम चेयरमैन बनाया गया है।