Zee Rozgar Samachar

‘RBI के कदमों से सरकारी बांडों में भारी निवेश की उम्मीद’

घरेलू रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर में 0.50 प्रतिशत की कटौती सहित अन्य कदमों से अगले कुछ साल में सरकारी बांडों में विदेशी निवेशकों से सालाना औसतन 48,000 करोड़ रूपये का निवेश आ सकता है।

मुंबई : घरेलू रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर में 0.50 प्रतिशत की कटौती सहित अन्य कदमों से अगले कुछ साल में सरकारी बांडों में विदेशी निवेशकों से सालाना औसतन 48,000 करोड़ रूपये का निवेश आ सकता है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने एक अप्रत्याशित कदम के तहत पिछले सप्ताह रेपो दर में 0.50 प्रतिशत कटौती करते हुए इसे 7.25 प्रतिशत से घटाकर 6.75 प्रतिशत कर दिया। एजेंसी ने एक रपट में कहा है कि रिजर्व बैंक के इन मौद्रिक कदमों व अन्य नीतिगत बदलावों का तय आय व रूपये पर सकारात्मक असर होगा।

रपट में कहा गया है, ‘हमारे विचार में आगामी ढाई साल के लिए केवल सरकारी बांडों में ही औसत सालाना विदेशी पोर्टफोलियो निवेश (एफपीआई) 48,000 करोड़ रूपये रहेगा।’

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.