close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत में गिर रही है मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या, TRAI प्रमुख ने कही ये बात

ट्राई के आंकड़ों के अनुसार देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या 31 मार्च, 2019 को घटकर 116.18 करोड़ पर आ गई. यह इससे पिछले महीने की तुलना में 2.18 करोड़ की कमी है.

भारत में गिर रही है मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या, TRAI प्रमुख ने कही ये बात

नई दिल्ली : भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने कहा है कि हाल में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या में आई कमी चिंता की बात नहीं है और नियामक को किसी तरह का हस्तक्षेप करने की जरूरत नहीं है. ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने कहा कि यह उतार-चढ़ाव न्यूनतम रिचार्ज प्लान की वजह से है और समय के साथ चीजें ठीक हो जाएंगी. 

क्या कहता है ट्राई का आंकड़ा
ट्राई के आंकड़ों के अनुसार देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या 31 मार्च, 2019 को घटकर 116.18 करोड़ पर आ गई. यह इससे पिछले महीने की तुलना में 2.18 करोड़ की कमी है. मार्च के अंत तक देश में कुल फोन घनत्व घटकर 90.11 रह गया जो फरवरी के अंत तक 91.86 था. 

शर्मा ने हालांकि मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या में कमी को नजरअंदाज करते हुए कहा कि इस तरह का उतार-चढ़ाव कई कारणों से है. मसलन दूरसंचार आपरेटरों ने कनेक्शनों को सक्रिय रखने के लिए मासिक न्यूनतम रिचार्ज शुरू किया है. इससे ऐसे कनेक्शन हट गए हैं जो सक्रिय नहीं थे. उन्होंने पीटीआई भाषा से कहा कि मुझे नहीं लगता है कि यह चिंता की बात है. 

यह पूछे जाने पर कि क्या नियामक इस मामले में हस्तक्षेप करेगा, शर्मा ने कहा कि हस्तक्षेप करने का सवाल नहीं खड़ा होता. ट्राई प्रमुख ने कहा कि जिस तरह से लोग डेटा सेवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं मुझे विश्वास है कि बाजार ठहरेगा नहीं. 

कितने कम हुए उपभोक्ता
ट्राई के आंकड़ों के अनुसार मार्च के अंत तक इससे पिछले महीने की तुलना में वोडाफोन आइडिया तथा भारती एयरटेल के मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या में क्रमश: 1.45 करोड़ और 1.51 करोड़ की कमी आई. वहीं माह के दौरान रिलायंस जियो ने 94 लाख नए ग्राहक जोड़े. मार्च, 2019 के अंत तक कुल मोबाइल ग्राहकों की संख्या घटकर 116.18 करोड़ पर आ गई, जो फरवरी के अंत तक 118.36 करोड़ थी.