रिलायंस जियो की बल्ले-बल्ले, पहली तिमाही में मुनाफा बढ़कर 612 करोड़ रुपये पहुंचा

जनवरी-मार्च तिमाही में 2018 में कंपनी ने 510 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. 

रिलायंस जियो की बल्ले-बल्ले, पहली तिमाही में मुनाफा बढ़कर 612 करोड़ रुपये पहुंचा
जून के अंत तक कंपनी के उपभोक्ताओं की संख्या 21.53 करोड़ थी...(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दूरसंचार क्षेत्र की प्रमुख कंपनी रिलायंस जियो का चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही का शुद्ध लाभ 19.9 प्रतिशत बढ़कर 612 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. इससे पिछली तिमाही जनवरी-मार्च, 2018 में कंपनी ने 510 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की दूरसंचार इकाई को 21.27 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. तिमाही के दौरान कंपनी की परिचालन आय इससे पिछली यानी बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही से 14 प्रतिशत बढ़कर 8,109 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. 

जून के अंत तक कंपनी के उपभोक्ताओं की संख्या 21.53 करोड़ थी. रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, ‘‘जियो देश में डिजिटल क्रांति को आगे बढ़ाने के रास्ते पर कायम है. पिछले एक साल में हमने अपने उपभोक्ताओं की संख्या को दोगुना किया है. शुरुआत के बाद सिर्फ 22 महीने में 21.5 करोड़ उपभोक्ता एक रिकॉर्ड है. दुनिया में कहीं भी कोई प्रौद्योगिकी कंपनी यह उपलब्धि हासिल नहीं कर पाई है.’’ 

उन्होंने यह भी कहा कि प्रतिस्पर्धा की तीव्रता के बावजूद जियो का लगातार मजबूत वित्तीय परिणाम दर्शाता है कि इसकी सेवाओं के महत्व को ग्राहक समझते हैं और कंपनी अपना परिचालय राजस्व बढ़ने के साथ साथ परिचालन लाभ भी बढ़ाने की मजबूत स्थिति में है. तिमाही के दौरान कंपनी का औसत राजस्व प्रति ग्राहक (एआरपीयू) 134.5 रुपये रहा. समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी के ग्राहकों की संख्या में 2.87 करोड़ का इजाफा हुआ. जियो के नेटवर्क पर प्रति ग्राहक प्रति माह औसत डाटा खपत 10.6 जीबी रही, जबकि औसत वॉइस खपत 744 मिनट रही.