वोडाफोन-आइडिया के विलय पर जियो ने ली चुटकी, कहा- 'हम 2016 से लोगों को साथ ला रहे हैं'

रिलायंस जियो ने वोडाफोन और आइडिया के विलय पर चुटकी ली है. कंपनी ने हाजिर जवाबी का इस्तेमाल करते हुए उन्हें शुभकामनाएं भी दीं. 

वोडाफोन-आइडिया के विलय पर जियो ने ली चुटकी, कहा- 'हम 2016 से लोगों को साथ ला रहे हैं'
फाइल फोटो

नई दिल्ली: रिलायंस जियो ने वोडाफोन और आइडिया के विलय पर चुटकी ली है. कंपनी ने हाजिर जवाबी का इस्तेमाल करते हुए उन्हें शुभकामनाएं भी दीं, और ये भी कह दिया कि ये विलय रिलायंस जियो के चलते हुआ है. दरअसर शुक्रवार को आइडिया ने ट्विट किया, 'Hey, @VodafoneIN क्या तुम्हें पता है, वो सभी हमारे बारे में बातें कर रहे हैं.' इस पर वोडाफोन ने रिप्लाई किया, 'Yeah @Idea. अब वक्त आ गया है कि हम इसकी खुली घोषणा कर दें.'

idea

जियो का जवाब 
ऐसे में रिलायंस जियो कहां चुप रहने वाला था. जियो ने तुरंत वोडाफोन को रिट्वीट करते हुए लिखा, 'हम 2016 से लोगों को साथ ला रहे हैं. वोडाफोन, आइडिया आपके लिए जियो की तरफ से प्यार.'  

 

दूरसंचार क्षेत्र में जियो से जो चुनौती मिली है, उसका मुकाबला करने के लिए वोडाफोन और आइडिया को आपस में विलय करना पड़ा. जबकि कुछ समय पहले तक ये कंपनियां एक दूसरे की तगड़ी प्रतिस्पर्धी थीं. इस विलय के बाद वोडाफोन आइडिया भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी बन गई है और उसके कुल ग्राहकों की संख्या करीब 41 करोड़ है.

नई कंपनी के बोर्ड में छह स्वतंत्र निदेशक सहित कुल 12 डायरेक्टर होंगे और कुमार मंगलम बिड़ला बोर्ड के अध्यक्ष होंगे. बोर्ड ने बालेश शर्मा को सीईओ नियुक्त किया है. कमाई के लिहाज से इस कंपनी की भारत में 32.2% हिस्सेदारी होगी.