डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी का असर, रिलायंस ने वेनेजुएला को ऑयल थिनर एक्सपोर्ट बंद किया

रिलायंस ने अमेरिकी शेल गैस प्रोजेक्ट में निवेश किया है. इसके अलावा वह अमेरिका के साथ तेल का व्यापार भी करता है.

डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी का असर, रिलायंस ने वेनेजुएला को ऑयल थिनर एक्सपोर्ट बंद किया
रिलायंस हर महीने 3 मिलियन बैरल कच्चा तेल वेनेजुएला से आयात करता था. (फाइल)

नई दिल्ली: डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज ने बुधवार को कहा कि अमेरिकी प्रतिबंध के मद्देनजर उसने वेनेजुएला को तेल निर्यात बंद कर दिया है. कंपनी ने कहा कि प्रतिबंधों को हटाये जाने तक निर्यात बंद रहेगा. कंपनी के जामनगर स्थित रिफाइनरी ने वेनेजुएला से कच्चे तेल की खरीद भी करीब एक तिहाई कम कर दी है. कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, 'अमेरिकी सरकार द्वारा वेनेजुएला की सरकार पर जनवरी 2019 में लगाये प्रतिबंधों के बाद से इनका पूरा अनुपालन करने के लिये कंपनी अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रतिनिधियों के साथ लगातार संपर्क में है.' 

प्रवक्ता ने कहा, 'हमारी अमेरिकी सहयोगी कंपनी ने वेनेजुएला की सरकारी कंपनी PDVSA के साथ सारा कारोबार बंद कर दिया है और इसकी वैश्विक मूल कंपनी ने कच्चा तेल की खरीद को बढ़ाया नहीं है.' उसने कहा, 'प्रतिबंध लगाये जाने के बाद से रिलायंस ने कुछ खबरों के उलट PDVSA को थिनर की आपूर्ति बंद कर दी है और इसे तबतक शुरू नहीं किया जाएगा जब तक प्रतिबंध लागू रहेगा.' कंपनी ने कहा कि वह प्रतिबंधों के अनुपालन के लिये अमेरिकी सरकार से रचनात्मक बातचीत जारी रखेंगे.

डोनाल्ड ट्रंप ने दी भारत को चेतावनी, वेनेजुएला से तेल खरीदना बंद करे

बता दें, कच्चे तेल की सप्लाई जब पाइप के जरिए की जाती है तब उसकी चिपचिपाहट कम करने और पतला करने के लिए तेल की जरूरत होती है. रिलायंस यही तेल निर्यात करता था जिसे फिलहाल अमेरिका की अपील पर बंद कर दिया है.

बता दें, रिलायंस ने अमेरिकी शेल गैस प्रोजेक्ट में निवेश किया है. इसके अलावा वह  अमेरिका के साथ तेल का व्यापार भी करता है. बता दें, जनवरी महीने में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वेनेजुएला पर तेल प्रतिबंध लगा दिया है. अमेरिका के विदेश सचिव माइक पॉम्पियों ने सोमवार को कहा था कि वह उम्मीद करते हैं कि भारत अमेरिकी सरकार द्वारा उठाए गए कदम में साथ देंगे और वेनेजुएल की लाइफ लाइन नहीं बनेंगे.

वेनेजुएला में आपात स्थिति के कारण सभी राजनयिक कर्मचारियों को वापस बुलाएगा अमेरिका

 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रिलायंस वेनेजुएला से हर महीने 3 मिलियन बैरल कच्चा तेल आयात करता था जिसे घटाकर फिलहाल 2 मिलियन बैरल कर दिया गया है. वेनेजुएला सरकार की तेल कंपनी PDVSA को अमेरिका ने यूएस ट्रेजरी डिपार्टमेंट स्पेशली डेजिगनेटेड नेशनल लिस्ट में शामिल कर दिया है. इस लिस्ट में जो कंपनियां शामिल होती हैं उससे अमेरिकी नागरिक किसी तरह का व्यापार करना बंद कर देते हैं.

(इनपुट एजेंसी से भी)