close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब टीवी नहीं आसमान में विज्ञापन करेंगी कंपनियां, पूरी दुनिया को आएगा नजर

स्पेस बिलबोर्ड्स छोटी-छोटी सेटेलाइट से तैयार की जाएगी. रॉकेट की मदद से इन सेटेलाइट को अतंरिक्ष में छोड़ा जाएगा.

अब टीवी नहीं आसमान में विज्ञापन करेंगी कंपनियां, पूरी दुनिया को आएगा नजर
इस प्रोजेक्ट का स्पेस साइंटिस्ट विरोध कर रहे हैं. (फोटो साभार ट्विटर)

नई दिल्ली: एडवरटाइजिंग की दुनिया अब टीवी, न्यूज पेपर, होर्डिंग, इंटरनेट से आगे निकल कर आसमान को छूने वाली है. रूस की एक स्टार्टअप ने आसमान में एडवरटाइजिंग करने का सपना देखा है. इसके तहत स्पेस में बिलबोर्ड्स स्थापित किए जाएंगे और ये बिलबोर्ड्स चांद-तारों की तरह आसमान में चमकेंगे. मतलब, पूरी दुनिया एक साथ इसे देख पाएगी.

स्पेस बिलबोर्ड्स छोटी-छोटी सेटेलाइट से तैयार की जाएगी. रॉकेट की मदद से इन सेटेलाइट को अतंरिक्ष में छोड़ा जाएगा और लोअर ऑर्बिट में प्लेस किया जाएगा. ये क्यूब्स अंतरिक्ष में चक्कर लगाएंगे और रात में दिखाई देंगे. जानकारी के मुताबिक, कंपनी इस प्रोजेक्ट को 2021 तक लांच करना चाहती है.

 

 

स्टार्टअप (StartRocket) के सीईओ Vlad Sitnikov ने कहा कि मैं सेटेलाइट में भेजे गए डिस्को बॉल प्रोग्राम से काफी प्रभावित हुआ और स्पेस एडवरटाइजिंग का फैसला किया. जनवरी 2018 में कैलिफोर्निया के Rocket Lab ने डिस्को बॉल को अंतरिक्ष भेजा था. इसे ऑर्बिटिंग आर्ट प्रोजेक्ट के तहत लांच किया गया था. हालांकि, इस काम में किस रॉकेट की मदद ली जाएगी इसको लेकर अभी तक कोई जानकारी नहीं है.


फोटो साभार ट्विटर.

कंपनी की इस प्रस्तावना पर दुनिया के कई साइंटिस्ट ने एतराज जताया है. उनका कहना है कि स्पेस में ट्रैफिक बढ़न ठीक नहीं है. इससे सेटेलाइट्स के आपस में टकराने की संभावना बढ़ जाएगी.


फोटो साभार ट्विटर.

साइंटिस्ट का कहना है कि ऐसे प्रोजेक्ट्स से स्पेस जंक (अंतरिक्ष में कचरा) बढ़ जाएगी. ऑर्बिट में पहले से ही बहुत कचरा जमा है. अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस के मुताबिक पृथ्वी के चारों ओर ऑर्बिट में करीब  5 लाख स्पेश जंक फैला हुआ है.