close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Flipkart से विदा हुए सचिन बंसल ने लिखा इमोशनल पोस्ट, कहा- 'ये लंबी छुट्टी का वक्त'

वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के बाद कंपनी से अलग हुए सह-संस्थापक सचिन बंसल ने भावुक फेसबुक पोस्ट के जरिए फ्लिपकार्ट से विदाई ली.

Flipkart से विदा हुए सचिन बंसल ने लिखा इमोशनल पोस्ट, कहा- 'ये लंबी छुट्टी का वक्त'
सचिन बंसल ने भावुक फेसबुक पोस्ट के जरिए फ्लिपकार्ट से विदाई ली.

नई दिल्ली: वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के बाद कंपनी से अलग हुए सह-संस्थापक सचिन बंसल ने भावुक फेसबुक पोस्ट के जरिए फ्लिपकार्ट से विदाई ली. साथ ही उन्होंने बताया कि अब वह अपना समय लंबित पड़ी व्यक्तिगत परियोजनाओं को पूरा करने में लगाएंगे. बंसल ने कहा, "दुख की बात है कि मेरा काम यहां पूरा हो गया और दस वर्ष बाद अब फ्लिपकार्ट की कमान किसी और सौंपने तथा यहां से जाने का वक्त आ गया है."

गेमिंग क्षेत्र पर देंगे ध्यान
बंसल ने अपने फेसबुक पोस्ट में कहा, "मैं लंबी छुट्टी पर जा रहा हूं और कुछ व्यक्तिगत परियोजनाओं को खत्म करने पर ध्यान केंद्रित करूंगा, जिसके लिए मैं समय नहीं निकाल पाया. वह गेमिंग क्षेत्र पर ध्यान देंगे (देखेंगे बच्चे इन दोनों क्या खेलना पसंद कर रहे हैं) तथा अपने कोडिंग कौशल को और अधिक निखारेंगे."

Flipkart बिकने से पूरी तरह बदलेगा ई-रिटेल मार्केट, ग्राहकों को होगा यह फायदा!

किसी और को कमान देने का वक्त
सचिन बंसल ने अपने पोस्ट में लिखा कि दस वर्ष बाद फ्लिपकार्ट से जाने तथा कमान किसी और को देने का वक्त आ गया है. वह फ्लिपकार्ट की टीम का बाहर से उत्साह बढ़ाएंगे और इस वृद्धि को बढ़ाए रखने पर ध्यान देने को कहेंगे.

वॉलमार्ट ने खरीदी हिस्सेदारी
अमेरिका की दिग्गज कंपनी वॉलमार्ट ने लगभग 16 अरब डॉलर से फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की है. यह अब तक उसका सबसे बड़ा अधिग्रहण सौदा है. इसे सौदे के साथ फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक सचिन बंसल कंपनी से बाहर हो जाएंगे. हालांकि, बिन्नी बंसल कंपनी में बने रहेंगे. बिन्नी और सचिन ने 2007 में फ्लिपकार्ट की स्थापना की थी.

फ्लिपकार्ट, वॉलमार्ट, Flipkart, Walmart, Sachin Bansal, Sachin emotional Post, Binny Bansal Email, Latest business news in Hindi

'सचिन अब कंपनी का हिस्सा नहीं'
फ्लिपकार्ट ग्रुप के सीईओ बिन्नी बंसल ने कंपनी के कर्मचारियों को एक टाउन हॉल मीटिंग में बताया कि सचिन ‘अब कंपनी का हिस्सा नहीं हैं.’ इस दौरान उनके साथ वॉलमार्ट इंक के ग्लोबल चीफ एग्जिक्युटिव ऑफिसर डग मैकमिलन और फ्लिपकार्ट के चीफ एग्जिक्युटिव ऑफिसर कल्याण कृष्णमूर्ति मौजूद थे. एंप्लॉइज को लिखे एक ईमेल में बिन्नी ने कहा कि सचिन और फ्लिपकार्ट अलग हो रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘पिछले 11 वर्षों में फ्लिपकार्ट सबसे अधिक पहचाने जाने वाले ब्रैंड्स में शामिल हुआ और देश में यह टॉप ई-कॉमर्स कंपनी है. सचिन की दूरदृष्टि और नेतृत्व के बिना यह संभव नहीं हो सकता था.’ 

2016 में कर लिया खुद को अलग
सचिन बंसल भले ही अभी पूरी तरह से कंपनी से अलग हो रहे हों, लेकिन जनवरी 2016 में सीईओ के तौर पर इस्तीफा देने के बाद से खुद को कंपनी के रोजाना के कामकाज से अलग कर लिया था, लेकिन वह फ्लिपकार्ट में इन्वेस्टमेंट लाने से जुड़ी बातचीत में प्रमुख भूमिका निभाते थे. अब अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचकर सचिन कुछ नया करने की योजना बना रहे हैं.