SBI@65: जन्मदिन पर ग्राहकों को दिया YONO शाखाओं का तोहफा

भारत का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई बुधवार 1 जुलाई को अपने स्थापना के 65 साल पूरे कर लेगा.

SBI@65: जन्मदिन पर ग्राहकों को दिया YONO शाखाओं का तोहफा
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारत का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई बुधवार 1 जुलाई को अपने स्थापना के 65 साल पूरे कर लेगा. भारतीय स्टेट बैंक ने अपने जन्मदिन के मौके पर ग्राहकों को इस बार योनो शाखाओं का तोहफा देने का फैसला किया है. फिलहाल अभी देश के तीन बड़े शहरों में ऐसी शाखाएं खोली जाएंगी, इसके बाद इसका विस्तार पूरे देश में अगले पांच सालों में किया जाएगा. 

यहां पर होगी शुरुआत
बैंक ने कहा है कि वो गुरुग्राम, नवी मुंबई और इंदौर से इस तरह की बैंक शाखाओं को खोलने जा रहा है. एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा, ‘‘हमें भरोसा है कि योनो शाखा ग्राहकों को डिजिटल बैंकिंग अपनाने में सशक्त बनाएगी और इसकी मदद से वह आसानी से सभी बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा पाएंगे.’’ 

बैंक के स्व-सेवा केंद्रों पर ग्राहक चौबीसों घंटे स्मार्ट मशीनों से चेक जमा करने, पैसा निकालने, पैसा जमा करने और पासबुक प्रिंट करने का काम कर सकते हैं. इसके लिए उन्हें बैंक के कर्मचारियों पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं होती. बैंक ने अपनी स्थापना की 65वीं वर्षगांठ पर इन शाखाओं को पेश किया. बैंक की योजना अगले पांच साल में देशभर में ऐसी शाखाएं खोलने की है.

योनो ब्रांच में ये सुविधाएं मिलेंगी

  • ग्राहक स्मार्ट चेक डिपोजिट कियोस्क में चेक जमा कर सकेंगे.
  • योनो कैश से नकदी की निकासी की जा सकेगी.
  • सप्ताह के सातों दिन कैश जमा किया जा सकेगा.
  • पूरे सप्ताह में कभी भी पासबुक प्रिंट कराई जा सकेगी.
  • ग्राहक खुद ही एफडी बुक कर सकेंगे.
  • नया खाता भी खुद ही खोला जा सकेगा.
  • ग्राहकों की सहायता के लिए योनो होस्ट तैनात रहेंगे.
  • ग्राहकों की सुविधा के लिए ब्रांच में वीडियो संदेश दिए जाएंगे.
  • क्रेडिट कार्ड, लोन, इंश्योरेंस, म्यूचुअल फंड की जानकारी मिलेगी.

योनो पर फिलहाल मिलती हैं ये सुविधाएं
योनो के अब तक 5.1 करोड़ डाउनलोड हो चुके हैं. इस प्लेटफॉर्म पर 2.4 करोड़ रजिस्टर्ड यूजर हैं. योनो की 85 ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ साझेदारी है. योनो अपने ग्राहकों को एटीएम से कार्डलेस नकद निकासी, प्री-अप्रूव्ड पर्सनल लोन, योनो कृषि जैसी सेवाएं भी देता है.

यह भी पढ़ेंः सिर्फ TikTok बंद होने से चीन को लगेगी 100 करोड़ की चपत, 59 बैन होने से होगा हजारों करोड़ का नुकसान

ये भी देखें---